दुर्ग। जिले में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को सर्वाधिक 813 नए मरीज मिले हैं। जिसमें से 24 मरीज सीएम हाउस भिलाई-तीन में चिन्हित हुए हैं। कोरोना से दो मरीजों की मौत भी हुई है। वहीं संक्रमण दर बढ़कर 24.85 फीसद पहुंच गया है।

जिले में कोरोना के नए संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिला स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को जिले में 3266 लोगों की कोरोना जांच कराई गई। जिसमें 813 नए मरीज मिले हैं। जो जनवरी महीने में सबसे अधिक है।

सीएम हाउस भिलाई-तीन में कोरोना विस्फोट हो गया है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सीएम हाउस में कोरोना के 24 नए मरीज मिले हैं। संक्रमितों में कर्मचारी,पुलिस कर्मी सहित अन्य लोग शामिल हैं। इसके अलावा साइस कालेज दुर्ग में भी तीन नए मरीज मिले हैं।

सातवीं बटालियन में तीन जवान संक्रमित होना बताया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण जिले में तेजी से फैल रहा है। भिलाई, रिसाली, दुर्ग, भिलाई-तीन चरौदा, कुम्हारी सहित जिले के ग्रामीण अंचलों में भी मरीज मिलने लगे हैं। शुक्रवार को जिले में कोरोना का संक्रमण दर 24.85 फीसद रहा। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार 74 मरीज स्वस्थ्य हुए हैं। वहीं कोरोना से दो लोगों की मौत भी हुई है।

मृतकों में शांति नगर दुर्ग निवासी 56 वर्षीय व्यक्ति व सुपेला भिलाई निवासी 60 वर्षीय व्यक्ति शामिल है। संक्रमण दर बढ़ने के साथ ही जिले में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 4966 पहुंच गई है।

--

पार्षदों ने कहा दुर्ग में हो आरटीपीसीआर जांच की सुविधा

दुर्ग निगम के पार्षदों ने शुक्रवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.गंभीर सिंह ठाकुर से मुलाकात कर दुर्ग में कोरोना जांच के लिए आरटीपीसीआर सुविधा शुरू किए जाने की मांग की है। उक्त मांग को लेकर ज्ञापन सौंपने वालों में पार्षद अरुण सिंह, शिवेंद्र परिहार, खिलावन मटियारा, हेमेश्वरी निषाद, सतीष देवांगन, बबीता यादव सहित अन्य शामिल हैं।

पार्षदों ने कहा है कि जिले में कोरोना संक्रमण का दर लगातार बढ़ रहा है। आरटीपीसीआर जांच के लिए जिला अस्पताल परिसर में भवन तैयार किया गया है। लेकिन जांच की सुविधा अब तक शुरू नहीं हो पाई है।

आरटीपीसीआर जांच के लिए लिया गया सैंपल बाहर भेजा जा रहा है जिसकी रिपोर्ट आने में तीन से चार दिन का समय लगता है। तब तक संक्रमितों का इलाज शुरू नहीं हो पाता।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local