भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

ऋषिकेश की तर्ज पर महेश कॉलोनी दुर्ग के राधा-कृष्ण मंदिर परिसर में संगीतमय नवधा पारायण रामायण पाठ जारी है। छठवें दिन सैकड़ों धर्मप्रेमियों ने एक साथ बैठकर रामायण का पाठ किया। इसमें आकर्षक अरण्यकांड के 120 दोहे का पाठ रहा।

जोधपुर से पहुंचे पं. गिरधर आसोपा व सुशील आसोपा ने भक्तों को मंत्रोधाार के साथ पाठ कराया। सांसद विजय बघेल ने भी आयोजन स्थल पर पहुंचकर रामायण का पाठ किया। मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि आयोजन का मुख्य उद्देश्य केवल सनातन धर्म से लोगों को जोड़कर उनके जीवन को आनंदमय बनाना है। सनातन धर्म का प्रचार-प्रसार करना है। इस आयोजन में हर वर्ग के लोग हिस्सा ले सकते हैं। उन्होंने मंच पर भक्तों से अपील करते हुए कहा कि जो भी व्यक्ति रामायण का पाठ करने का इच्छुक है या जिसे इसकी जानकारी नहीं है उन्हें रामायण पाठ स्थल तक लेकर आएं। ताकि वे भी इस भक्ति रस का आनंद ले सकें।

सभी का जीवन हो जाता है सुखी

पं. पवन महाराज ने बताया कि रामायण का एक-एक मंत्र, दोहे और चौपाई में इतनी शक्ति है कि इसे सुनने और पढ़ने मात्र से मनुष्य को अद्भुत आनंद की प्राप्ति होती है। गोस्वामी तुलसीदास के अनुसार भगवान राम के चरित्र को जो सुनता है, गाता है, उसके जीवन में हमेशा सुख की प्राप्ति होती है। इसका लाभ हर व्यक्ति को लेना चाहिए।

---