दुर्ग। नईदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना के बढ़ते आंकड़ों ने शिक्षकों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी हैं। कोरोना ड्यूटी करने वाले शिक्षकों को संक्रमित होने का खतरा सताने लगा है। बेमेतरा में कोरोना से एक शिक्षक की मौत होने के बाद शिक्षकों के मन में डर बैठ गया है। शिक्षकों ने सोमवार को मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव के नाम पर कलेक्टर को ज्ञापन देकर कोरोना ड्यूटी करने वाले शिक्षकों को पीपीई किट, दस्ताना, सैनिटाइजर और 50 लाख रुपये का बीमा कवर प्रदान करने मांग की है।

कोरोना ड्यूटी करने वाले शिक्षकों ने कहा कि कोरोना से निपटने सरकार कई तरह के दावे कर रही है। लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। इस बीमारी से निपटने में सहयोग करने वाले को सरकार कोरोना वॉरियर्स से संबोधित कर उनकी सुरक्षा के लिए कई तरह के बड़े-बड़े दावे कर रही है। लेकिन हकीकत इसके उलट है। कोरोना वॉरियर्स के लिए सुरक्षा के दावे को शिक्षकों ने छलावा बताया है।

0 सैनिटाइजर व दस्ताना भी खुद के पैसों से खरीदना पड़ रहा

शिक्षकों का कहना है कि सरकार कई तरह के दावे कर रही है। कोरोना ड्यूटी करने वाले शिक्षकों को वायरस से बचाव के लिए पीपीई किट नहीं दिया गया है। जिस कारण शिक्षकों को संक्रमित होने का खतरा सता रहा है। कलेक्टर को ज्ञापन देकर शिक्षकों ने बताया कि सैनिटाइजर, दस्ताना भी खुद के पैसों से खरीदना पड़ रहा है। रोजाना कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं। इसके बाद भी कोरोना ड्यूटी करने वाले शिक्षकों को सुरक्षा किट मुहैया नहीं कराया गया है। ज्ञापन सौंपने के दौरान छग टीचर्स एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष कमल वैष्णव, रश्मि साहू, नारायण दास जोशी, राहुल झा, आदित्य नामदेव, तिलक साहू, टीकम साहू, रोशन देवांगन, रोशन साहू, प्रियंका चंद्राकर, सीमा श्रीवास्तव, योगेश्वर साहू, जया रानी आर्य, गिरिवर साहू व अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020