दुर्ग(नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्वच्छता को लेकर लोग पहले की तुलना में अधिक जागरूक हो गए हैं। घर के बड़े-बुजुर्ग ही नहीं बच्चों में भी सफाई के प्रति सतर्कता देखने को मिल रही है। घर-आंगन के कचरे का निष्पादन को लेकर लोगों की निर्भरता अभी भी निगम अमले पर देखने को मिल रही हैं। लेकिन कुछ ऐसे जानकार भी हैं जो कचरा प्रबंधन को लेकर बेहतर टिप्स दे सकते हैं। जिसके कचरा के निष्पादन में मदद मिल सकती है।

दुर्ग निगम के पूर्व स्वास्थ्य अधिकारी बीएल केशरवानी ने बताया कि घरेलू तकनीक का उपयोग कर घर से निकलने वाले कचरे का बेहतर ढंग से निष्पादन किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि घर के भीतर तीन-चार मटका रख लें। प्रत्येक मटके को दो-तीन स्थानों पर छेद कर लें। मटके की भीतर घर से निकलने वाले सूखा कचरा को डाल दें। इसके बाद गोबर का घोल बनाकर इन मटकों में डाल दें। केशरवानी ने बताया कि 24 घंटे बाद यह कचरा खाद बन जाता है और इसका उपयोग घर के गार्डन में किया जा सकता है। घरों से निकलने वाले प्लास्टिक,कैरी बैग,कांच की बोतलें सहित अन्य कचरा डोर-टूृ-डोर कचरा कलेक्शन करने वालों को दे दें। प्लास्टिक को रिसाइकल कर उपयोग में लाया जाता है। शहर के बाजारों में प्लास्टिक सहित अन्य कचरों को एकत्रित कर रखने के लिए दुकानदारों के पास डस्टबिन होना चाहिए। दुकानदार कचरा डस्टबिन में संग्रहित कर रखेंगे और सुबह डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन करने वाले निगम अमला को देंगे। ऑफिस से निकलने वाले कचरे को कम करने के लिए भी घर में उपयोग में लाए जाने वाले डस्टबिन का सहारा ले सकते हैं। यहां भी सूखा और गीला कचरा को अलग-अलग रखना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक कचरे जैसे सीडी,पेन ड्राइव,फूटी हुई बल्ब,ट्यूब लाइट सहित अन्य कचरा का पृथक से रखकर डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन करने वालों को देना चाहिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020