दुर्ग। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग में विश्वविद्यालय परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले प्राध्यापकों के लिए लोन सुविधा, पीएचडी में अध्ययनरत शोधार्थियों के लिए छत्तीसगढ़ शासन के नियमानुसार छात्रवृत्ति की सुविधा तथा दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों के पद स्तर में एक ग्रेड वृद्घि किए जाने संबंधी महत्वपूर्ण प्रस्ताव विवि कार्यपरिषद की आगामी बैठक में अनुमोदन के लिए रखे जाने का प्रस्ताव है। इस दौरान कुलपति ने कहा कि हमारी कोशिश है कि विवि के सेमेस्टर परीक्षाओं के परिणाम पांच फरवरी से जारी होने आरंभ कर दिया जाएगा।

हेमचंद यादव विवि की कुलपति डा.अरुणा पल्टा ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस को समर्पित उत्पादन सह विक्रय प्रदर्शनी के उद्घाटन करते हुए यह जानकारी दी। डा.पल्टा ने कहा कि इस प्रदर्शनी का प्रमुख उद्देश्य विद्यार्थियों की प्रतिभा को उभारने के साथ-साथ उन्हें यूजीसी एवं छत्तीसगढ़ शासन की मंशानुसार स्टार्टअप योजना तथा स्वरोजगार की ओर अग्रसर करना है। 26 से 31 जनवरी तक प्रतिदिन तीन से पांच तक आयोजित इस प्रदर्शनी में श्री शंकराचार्य महाविद्यालय जुनवानी, स्वामी स्वारुपानंद सरस्वती महाविद्यालय हुडको, भिलाई महिला महाविद्यालय सेक्टर-9, साईं महाविद्यालय सेक्टर-6 तथा घनश्याम सिंह आर्य कन्या महाविद्यालय दुर्ग के विद्यार्थियों द्वारा हस्तनिर्मित कलाकृतियां प्रदर्शन एवं विक्रय के लिए रखी गई है। डा.पल्टा ने बताया कि विवि की सेमेस्टर परीक्षाओ की उत्तर पुस्तिकाएं महाविद्यालयों से संग्रहित होकर विवि में पहुंचना आरंभ हो चुकी है। इन उत्तर पुस्तिकाओं का शीघ्र मूल्यांकन आरंभ किया जाएगा। विवि प्रशासन का यह प्रयास रहेगा कि पांच फरवरी से सेमेस्टर परीक्षा के परीक्षा परिणाम जारी करना आरंभ हो जाए। डा.पल्टा ने अधिकारियों और कर्मचारियों से कोविड.19 नियमावली का कड़ाई से पालन करने की सलाह दी। कुलसचिव डा.सीएल.देवांगन ने अपने उद्बोधन में गणतंत्र दिवस के महत्व एवं हम सभी को संविधान के अनुरूप कार्य करने का संकल्प लेने का आह्वान किया।

विभिन्ना महाविद्यालय से अधिकारी रहे उपस्थित

इस दौरान विवि के अधिष्ठाता छात्र कल्याण डा.प्रशांत श्रीवास्तव, स्वरूपानंद महाविद्यालय की प्राचार्य डा. हंसा शुक्ला, भिलाई महिला महाविद्यालय की प्राचार्य डा.संध्या मदन मोहन, घनश्याम सिंह आर्य कन्या महाविद्यालय डा.मृदुला वर्मा, साई महाविद्यालय की डिप्टी डायरेक्टर डा.ममता सिंह तथा प्राचार्य डा.डीबी.तिवारी, डा.सोनल खंडेलवाल, शंकराचार्य महाविद्यालय की डा. उज्जावला भोंसले, शासकीय कन्या महाविद्यालय दुर्ग की डा.अमिता सहगल, डा.ऋतु दुबे, डा.रेशमा लाकेश, डा.ऋचा ठाकुर, कल्याण महाविद्यालय से डा. आरपी. अग्रवाल सहित अनेक प्राध्यापक उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local