दुर्ग। मानसून करीब है और शहर के नाले कचरा व मलमा से पटे हुए है। कसारीडीह और शक्तिनगर नाला की सफाई अब तक शुरू नहीं हुई है। शंकरनगर नाला की सफाई का काम भी पूरा नहीं हुआ है।

गली, मोहल्ले की नालियां भी कचरों से भरा हुआ है। नाला सफाई की यह स्थिति दुर्ग ही नहीं भिलाई निगम क्षेत्र में भी देखने को मिल रही है।

जून के पहले पखवाड़ा में मानसूनी बारिश होने की संभावना जताई जा रही है। बारिश का पानी निचली बस्तियों व गली-मोहल्लों की सड़कों पर न भरे इसे ध्यान में रखते हुए निगम प्रशासन द्वारा नालों की सफाई कराई जाती है। दुर्ग निगम ने मई महीने के पहले सप्ताह में नाला सफाई का काम शुरू किया।

सफाई का काम शंकरनाला, केलाबाड़ी और करहीडीह नाला से प्रारंभ किया गया। लेकिन वर्तमान स्थिति में नाला सफाई का बुराहाल है। 11 किमी लंबी शंकर नाला की सफाई मालवीय नगर से गुरुद्वारा तक हो पाई है। अभी भी करीब छह किमी हिस्से में सफाई का काम बाकी है।

निगम प्रशासन केलाबाड़ी नाला की पूरी सफाई का दावा कर रहा है। करहीडीह नाला का कुछ हिस्सा भी सफाई के लिए शेष होना बताया जा रहा है। पार्षदों का कहना है कि नाला में जिस स्थान पर चैन माउंटेन मशीन से सफाई की जरूरत है वहां भी मेनुअल सफाई कराई जा रही है।

छह किमी लंबा कसारीडीह नाला- करीब छह किमी लंबा कसारीडीह नाला शहर के दस वार्डों के बीच से होकर गुजरता है। पार्षद मनी गीते ने बताया कि पिछले साल नाला सफाई नहीं होने की वजह से सुषाष नगर और केलाबाड़ी के कुछ हिस्सों में पानी भर गया था। निगम ने इस वर्ष अब तक नाला सफाई का काम शुरू नहीं किया है। बारिश में 15 दिन शेष है ऐसे में समय पर नाला सफाई पूरा हो पाएगा अथवा नहीं इसे लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है।

चार किमी लंबा शक्तिनगर नाला- शक्तिनगर नाला भी करीब चार किमी लंबा है। यह जवाहर नगर से शुरू होकर करहीडीह में जाकर मिलता है। पार्षद देवनारायण चंद्राकर ने बताया कि पिछले साल बारिश का पानी शक्तिनगर,जवाहर नगर क्षेत्र में भर गया था। नाला सफाई के लिए निगम को दो सप्ताह पहले पत्र लिखा गया।

--

गली,मोहल्लों में सफाई नहीं

शहर के भीतर गली,मोहल्लों में भी नालियों की सफाई की स्थिति अच्छी नहीं है। पदमनाभपुर,कुंदरापारा,ब्राह्मणपारा,पचरीपारा,नयापारा सहित कुछ और वार्डों के गली,मोहल्लों में नालियां जाम नजर आ रही है। नाली साफ नहीं होने की सूरत में पानी निकासी को लेकर समस्या बनी रह सकती है। पिछले साल भी बारिश के दिनों में यह समस्या सामने आई थी।

--

-शक्तिनगर नाला की सफाई शुरू नहीं हुआ है। शंकरनाला की सफाई चल रही है। कसारीडीह नाला सफाई का काम जल्द शुरू किया जाएगा। बारिश के दिनों में पानी निकासी को लेकर दिक्कत न हो इसे ध्यान में रखते हुए व्यवस्था बनाने का प्रयास किया जा रहा है।

गिरीश दीवान, स्वास्थ्य अधिकारी नगर निगम दुर्ग

--

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close