गरियाबंद। प्रदेश कांग्रेस सरकार द्वारा धरना-प्रदर्शन को लेकर लाए सरकारी आदेश के विरोध में सोमवार को भाजपा ने जेल भरो आंदोलन का आयोजन कर अपनी गिरफ्तारी दी। इसमें जिले के दिग्गज भाजपा नेताओं के साथ बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता शामिल हुए। स्थानीय गांधी मैदान में आयोजित धरना प्रदर्शन में भाजपा नेताओं ने इस सरकारी आदेश को तुगलकी फरमान बताते हुए भूपेश सरकार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की। वहीं इसके विरोध में 500 से अधिक भाजपाइयों ने अपनी गिरफ्तारी भी दी। गिरफ्तारी के पहले पुलिस और भाजपाइयों के बीच जमकर झूमाझटकी हुई। जिसके बाद सभी को अस्थायी जेल भेज दिया गया। वहीं बलौदाबाजार में 181 भाजपाइयों को गिरफ्तार कर निश्शर्त छोड़ा गया।

इस अवसर पर पूर्व सांसद व भाजपा के पिछड़ा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंदूलाल साहू ने कहा कि बड़े बड़े वादे कर सत्ता में आई कांग्रेस सरकार प्रदेश की जनता को ठगने के बाद अपने खिलाफ हो रहे प्रदर्शन से बौखला गई है। प्रदेशभर में उठ रही विरोध कि लहर से ये भूपेश सरकार इतनी डर गई है कि वह काला कानून लाकर जन आक्रोश को कुचलना चाहती है। सत्ते के नशे में चूर इस तानाशाही सरकार ने प्रदेश में धरना-प्रदर्शन आंदोलन पर रोक लगाने तुगलकी फरमान जारी कर 19 बिंदुओं की अनुमति अनिवार्य कर दी है। कांग्रेस सरकार लोगों के अभिव्यक्ति की आजादी को छीन कर प्रदेश अघोषित आपातकाल लगा रही है। विधायक डमरूधर पुजारी ने कहा कि कांग्रेस ने सत्ता में आने झूठे सब्जबाग दिखाए, बड़े-बड़े वादे किए लेकिन सत्ता में आने के बाद जब उसे पूरा करने का समय आया तो उससे मुकर गई। आज पूरे प्रदेश में विभिन्ना कर्मचारी संगठन, किसान, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मनरेगा कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, विद्युतकर्ती अपनी मांगों को लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ धरना-प्रदर्शन कर रहे तो भूपेश सरकार काला कानून भूपेश एक्ट लाकर इस आवाज को दबाना चाहती है। विधायक ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है लेकिन कांग्रेस इस आवाज को ही दबाना चाह रही है।

लोकतंत्र की हत्या करती है कांग्रेसः भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश साहू ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा लोकतंत्र की हत्या करने का काम किया। आज उसे ही दोहराते हुए कांग्रेस सरकार काला कानून भूपेश एक्ट लाकर आपातकाल जैसी स्थिति का निर्माण कर रही है।

जनता का मौलिक अधिकार छीन रही भूपेश सरकारः प्रदेश किसान मोर्चा प्रभारी संदीप शर्मा, पूर्व विधायक गोवर्धन सिंह मांझी, संतोष उपाध्याय, नपा अध्यक्ष गफ्फू मेमन, भाजपा महिला मोर्चा प्रदेश महामंत्री विभा अवस्थी, पूर्व जिप सदस्य डा. श्वेता शर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष डा. रामकुमार साहू, वरिष्ठ नेता मुरलीधर सिन्हा, भागवत हरित ने कांग्रेस सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि साढ़े तीन साल में भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ आंतक, भय व गैर कानूनी कार्यों का अड्डा बन गया है। कानून व्यवस्था बद से बदतर हो गई है। कांग्रेस सरकार अपने विरुद्ध उठ रही आवाज को दबाने जनता से उनके मौलिक अधिकार को भी छीन रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close