फिंगेश्वर। नईदुनिया न्यूज

क्षेत्र में रेत माफियाओ के हौसले इतने बुलंद है कि कार्रवाई होने के बावजूद अपने कारोबार को फिर से अंजाम देने की फिराक में है। मामला फिंगेश्वर के सुखानदी बोरिद रेत घाट का है जहां कार्रवाई होने के बाद भी ऐसा लग रहा है कि रेत माफिया फिर से दबंगई दिखाते हुए रेत खदान चालू करने की फिराक में हैं।

यह सवाल इस लिए उठ रहा है क्योंकि खनिज विभाग के अधिकारियों ने हाल ही में बोरिद रेत घाट में रात दो बजे अवैध रेत उत्खनन करते नदी में रेत से भरे तीन हाइवा जब्त कर दो चैन माउंटेन को सील किया था। इस दौरान अवैध रेत उत्खनन पर कार्रवाई की बात कहते हुए सहायक खनिज अधिकारी एसएल नागेश ने कहा थी जो रेत नदी में बनाया गया है उसे तोड़ दिया गया गा। पर अब तक रेम को नहीं तोड़ा गया है जिससे कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं।

जानकारी के अनुसार जबसे माफियाओं के अवैध रेत खदान में कार्रवाई हुई है तब से माफिया चैन माउंटेन व हाइवा को छुड़वाने एड़ी चोटी का दम लगा रहे हैं। कार्रवाई की रात्रि रेम तोड़ने की खबर से ही माफिया हड़बड़ाए हुए हैं और रात दिन रेम की निगरानी में कुछ लोगों को देखा गया है।

--------

वर्जन

अन्य कार्यों की व्यवस्था के चलते रेम तोड़ने की कार्यवाही नहीं की गई है। लेकिन कल खनिज इंस्पेक्टर को मौके पर भेज कर रेम को तोड़वा दिया जाएगा। किसी भी हालात में अवैध रेत उत्खनन व परिवहन शुरू नहीं होने दिया जाएगा।

एसएल नागेश, सहायक खनिज अधिकारी