गोहरापदर। नईदुनिया न्यूज

पंचायत खाते में जनपद पंचायत द्वारा पेंशनधारियों की राशि डालने के बाद भी सप्ताह भर से हितग्राहियों को पेंशन नहीं मिल पाई है। जिम्मेदार ग्राम पंचायत सचिव आजकल में देने की बात कहकर हितग्राहियों को गुमराह कर रहे हैं।

मामला मैनपुर ब्लॉक के ढोर्रा और खजूरपदर पंचायत का है। जानकारी अनुसार ढोर्रा पंचायत अंतर्गत 263 पेंशनधारियों को सामाजिक सुरक्षा वृद्घा के तहत नवंबर माह का करीब सप्ताह भर पहले राशि जारी कर दी है। हालांकि नौ हितग्राहियों की पेंशन सीधा ऑनलाइन हितग्राहियों के खाते में जाती है लेकिन नगद भुगतान वाले 254 पेंशन धारियों को सचिव की लापरवाही के चलते अब तक पेंशन नहीं मिल पाई है। इसी तरह खजूरपदर पंचायत के तत्कालीन सचिव द्वारा पेंशनधारियों की 53000 निकाल लिया गया है जिसे वर्तमान पदस्थ सचिव द्वारा आजकल में तत्कालीन सचिव से लेकर वितरण करने की बात कहकर यह हितग्राहियों को घुमाया जा रहा है। ढोर्रा के हितग्राहियों का कहना है कि कभी कभार सचिव पंचायत में पहुंचते हैं और उन्हें बार-बार पेंशन देने के लिए कहा जाता है लेकिन कभी हितग्राहियों की वेरिफिकेशन तो कभी और बहाना बताकर पेंशन समय पर नहीं दिया जाता।

ढोर्रा और खजूरपदर पंचायत के पेंशन धारियों ने कहा कि दिनचर्या के सामान लेने के लिए अब भीख मांगने की नौबत आ रही है क्योंकि दुकानदार अब साबुन, तेल एवं खानपान की सामग्री देने से साफ मना कर देते हैं क्योंकि नवंबर माह का उधारी नहीं चुकाने के चलते गांव के छोटे-छोटे दुकानदार उधारी देने से मना कर रहे हैं।

कलेक्टर से होगी शिकायत

हितग्राहियों के अनुसार पेंशन समय पर नहीं मिलने की जानकारी कई बार जनपद अधिकारियों को भी दी गई। समय सीमा पर पेंशन वितरण होने या फिर सचिव द्वारा नहीं किए जाने की जानकारी रखने के लिए जनपद कार्यालय में अधिकारी कर्मचारी पदस्थ हैं बावजूद इसके उच्च अधिकारियों को पेंशन संबंधित जानकारी नहीं हो पाती जबकि पंचायत की बैठकों में अधिकारियों की मौजूदगी में भी कई दफा पेंशन राशि समय पर नहीं मिलने की शिकायत की गई। लेकिन लापरवाह सचिवों के विरुद्घ कोई कार्रवाई नहीं होने से पेंशनधारियों ने जिला मुख्यालय पहुंचकर कलेक्टर से शिकायत दर्ज कराके समय पर पेंशन दिलाने की मांग करेंगे।

---------

वर्सन

हितग्राहियों की पेंशन राशि जमा हो चुकी है लेकिन किसके खाते में ऑनलाइन आया है। यह वेरिफिकेशन किया जा रहा है। वेरिफिकेशन के बाद पेंशन दी जाएगी।

गौरीशंकर यादव, सचिव ग्राम पंचायत ढोर्रा

----------

तत्कालीन सचिव ने पेंशन की राशि निकाल ली है और मांगने पर आज कल कहकर बात को टाला जा रहा है। इसलिए अब तक पेंशन धारियों को पेंशन नहीं दी है।

उपेंद्र नेताम, ग्राम पंचायत सचिव खजूरपदर

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket