मैनपुर। गुरुवार को मैनपुर में कलेक्टर निलेश क्षीरसागर नवमुड़ा स्थित धान खरीदी केंद्र के निरीक्षण में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि धान विक्रय करने पहुंचने वाले किसानों को कोई परेशानी न हो शासन के निर्देशानुसार पूरी पारदर्शिता के साथ धान की खरीदी की जाए। साथ ही उन्होंने पूरे धान खरीदी केंद्र का निरीक्षण किया।

इस दौरान आदिम जाति सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष खेदू नेगी ने कलेक्टर निलेश क्षीरसागर को बताया कि इस धान खरीदी केंद्र के अंतर्गत लगभग 1700 किसान धान विक्रय करते हैं और धान खरीदी केंद्र नवमुड़ा के आसपास के जमीन को आज अपर कलेक्टर जेआर चौरसिया, एसडीएम सूरज साहू व तहसीलदार कृष्णमूर्ति दीवान की उपस्थित में कब्जा मुक्त कराया गया है। पांच एकड़ जमीन धान खरीदी केंद्र के लिए सुरक्षित कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि धान खरीदी केंद्र में समिति को पिछले वर्ष की राशि लगभग चार लाख रुपये अभी तक अप्राप्त है उस राशि को दिलाने की मांग किया है। साथ ही समिति के सदस्यों ने अनेक समस्याओं से कलेक्टर को अवगत कराया। कलेक्टर ने गौरघाट में खरीदी केंद्र की मांग कर रहे किसानों को नवमुड़ा खरीदी केंद्र में कोई परेशानी न हो इसके लिए तीन कांटा तौल और तौल करने वाले मजदूरों को बढ़ाया है। साथ ही किसानों को जगह का अभाव न हो इसके लिए घेरा भी बढ़ाते पूरी व्यवस्था बनाई गई है।

---------

धान खरीदी पर नजर रखेंगे नोडल अधिकारी

बलौदाबाजार। धान खरीदी कार्य में लगे 173 नोडल अधिकारियों का जिला पंचायत के सभाकक्ष में प्रशिक्षण दिया गया। कोरोना प्रोटोकाल का ध्यान रखते हुए दो-दो विकासखंड को मिलाकर तीन पालियों में प्रशिक्षण संपन्ना हुआ। कलेक्टर ने खरीदी केंद्रों में शुरू से लेकर अंत तक की तमाम प्रक्रिया की सटीक जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि उपार्जन केंद्रों की संपूर्ण प्रक्रिया पर बारीकी से नजर रखना नोडल अधिकारियों का प्रमुख दायित्व है। यदि कहीं कोई विसंगति दिखी तो इसे तत्काल एसडीएम के माध्यम से जिला प्रशासन को सूचित करना है। उन्होंने कहा कि धान बेचने के काम में वास्तविक किसानों को कोई दिक्कत पेश नहीं आनी चाहिए। दलालों, बिचौलियों और गैर किसानों पर कड़ाई से निपटना जिला प्रशासन की प्राथमिकता में है। कलेक्टर ने प्रशिक्षण सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि बारदाने की कमी बहुत जल्द दूर होगी। राज्य सरकार ने जूट के साथ प्लास्टिक के बारदाने के इस्तेमाल की अनुमति प्रदान कर दी है। अगले दो-चार दिनों में इसके पहुंच जाने की संभावना है। उन्होंने धान खरीदी के संबंध में नोडल अधिकारियों के ज्ञान का परीक्षण भी किया। और उनकी शंकाओं का समाधान भी किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस