राजिम कोपरा । धान खरीदी में आ रही सूखत की राशि समितियों को वापस दिलाने एवं परिवहन देरी से होने के कारण हो रही अतिरिक्त खर्च को समितियों को देने सहित विविध मांगों के समर्थन में पिछले कई दिनों से सहकारी समिति कर्मचारी विगत 24 जुलाई से हड़ताल पर हैं। शनिवार को उनके हड़ताल को समर्थन देने गरियाबंद जिला पंचायत सदस्य एवं राजिम कोऑपरेटिव सोसायटी अध्यक्ष चंद्रशेखर साहू हड़ताल स्थल पर पहुंचे और हड़ताली कर्मचारियों की मांगों का समर्थन किया। उन्होंने सहकारी समिति कर्मचारी संघ की पांच सूत्रीय मांगों को उचित करार देते हुए कहा कि प्रदेश के 2058 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के माध्यम से शासन की महत्वपूर्ण जनकल्याणकारी योजनाए जैसे समर्थन मूल्य धान खरीदी , सार्वजनिक वितरण प्रणाली , खाद , बीज , केसीसी ऋण वितरण आदि का सफल संचालन शत प्रतिशत किया जाता है। सहकारिता के माध्यम से गांव गरीब किसानो की सेवा की जाती है । सहकारी समितियां सहकारिता की रीड की हड्डी एवं प्रथम सीढ़ी है। इन सहकारी समितियों में विगत 3540 वर्षों से अल्प वेतन में पूर्ण निष्ठा लगन एवं ईमानदारी के साथ लगभग पूरे प्रदेश में 10000 हजार कर्मचारीगण सेवारत है किन्तु खेद एवं चिंतनीय विषय है कि आज भी प्रदेश के 2058 सहकारी समितियों के कर्मचारियों को सम्मानजनक वेतन तथा अन्य सुविधाओं से वंचित है। भूपेश बघेल सरकार की गलत विपणन नीतियों के कारण सभी कर्मचारियों का भविष्य पूर्णतः अंधकारमय है जिससे पूरे छ.ग. कर्मचारी हतोत्साहित व अपने भविष्य को लेकर काफी चिंतित है। मैं इन सभी मांगों का समर्थन करता हूँ और सरकार से मांग करता हूँ कि उनकी यथोचित मांगों को शीघ्र पूरा करें जिससे हड़ताल के कारण किसानों को हो रही परेशानियां भी दूर की जा सकें। इस दौरान हड़ताल स्थल पर अमृत साहू, रामाशंकर साहू, युगल साहू, खेमलाल साहू, दिनेश चंद्राकर, सुदेश देवांगन,अश्वनी साहू, खेलावन साहू, रिपुसूदन साहू, तोरण साहू, बोधराम साहू,बिसेलाल साहू आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local