मैनपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा धान खरीदी की तिथि एक सप्ताह बढ़ाए जाने की घोषणा को दिखावटी बताते युवा मोर्चा मैनपुर मंडल अध्यक्ष महेश कश्यप ने पूरे फरवरी माह में किसानों का धान खरीदी किए जाने की मांग की है। महेश कश्यप ने राज्य सरकार को कोसते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार द्वारा धान खरीदी एक माह विलंब से प्रारंभ की गई। दिसंबर से जनवरी तक केवल दो माह का समय ही किसानों को धान बेचने के लिए मिल पाया जो अपर्याप्त है। इन दो माह में 10 से 11 दिन अवकाश में बीता और दिसंबर माह के अंतिम सप्ताह जनवरी के दूसरे सप्ताह में बेमौसम बारिश होने के कारण खरीदी प्रभावित रही। अब तक केवल माह भर का समय ही किसानों को धान बेचने के लिए मिल पाया है और उसमें भी भूपेश बघेल की सरकार ने फरवरी का एक सप्ताह खरीदी के लिए आगे बढ़ाया है जबकि पूरा फरवरी माह में खरीदी किया जाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में अब तक केवल 60 से 70 फीसदी किसान ही समर्थन मूल्य पर अपना धान सोसाइटियों में बेच पाए हैं। अभी भी कई किसान धान बेचने के लिए बचे हुए किसानों को धान बेचने रोज मशक्कत करते अभी भी देखे जा सकते हैं। लगभग एक तिहाई से ज्यादा किसान अब तक अपनी उपज की बिक्री नहीं कर पाए हैं। भाजयुमो अध्यक्ष महेश कश्यप ने किसानों की परेशानियों को देखते हुए धान खरीदी की समय सीमा में एक माह की वृद्घि करने व बेमौसम बारिश के कारण नुकसान हुए रबी फसलें चना, सरसों, लाख-लाखड़ी व अन्य फसलों का मुआवजा प्रदान किए जाने की मांग की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local