देवभोग। क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। शुक्रवार को दिन में ठिठुरन बढ़ी। इस बीच न्यूनतम तापमान 14 डिग्री तो अधिकतम 26 डिग्री दर्ज किया गया।

इस साल यह न्यूनतम तापमान अब तक का सबसे कम तापमान है। तापमान में कमी होने की वजह से लोग दिनभर गर्म कपड़ों में लिपटे रहे। शाम होते ही ठंडी हवा चलते रहने से ठिठुरन और बढ़ी, इसलिए लोग जल्दी ही अपने घरों को चले गए, जिससे सांझ का बाजार सूना रहा। मौसम विज्ञानिकों के अनुसार इसका कारण एक चक्रवात जवाद है। जिसके 4 दिसंबर को उत्तर आंध्रप्रदेश व ओडिशा तट से टकराने की संभावना है, जिसके प्रभाव से 3 से 6 दिसंबर तक छत्तीसगढ़ के दक्षिणी इलाकों में मौसम के खराब होने की संभावना है। इस लिहाज इसका असर देवभोग ब्लाक में भी देखने को मिला।

पूर्वी हवाओं के कारण शुष्क हुआ मौसम : मौसम विभाग की माने तो शनिवार और रविवार को मौसम के शुष्क रहने की संभावना बढ़ गई है, क्योंकि छत्तीसगढ़ में पूर्वी हवाओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। इसके अलावा दक्षिण छत्तीसगढ़ में आंशिक रूप से बादल छाने के आसार के चलते अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी की संभावना है। बारिश होने की सम्भावना भी जताई गई है।

रविवार सोमवार को हल्की बारिश के आसार

अधिकतम तापमान 26 डिग्री तो न्यूनतम तापमान 14 डिग्री रिकार्ड होने साथ हवा में नमी का प्रतिशत भी 53 पर पहुंच गया है। शुक्रवार को शाम 5.18 बजे सूर्यास्त हो गया, वहीं शनिवार को सुबह 6.18 बजे सूर्योदय होगा। इधर रविवार व सोमवार को सुबह घना कोहरा छाने का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने जारी किया है, वहीं रविवार सोमवार को हल्के बादल छाने के साथ ही बारिश की संभावना है। जबकि मंगलवार को हल्के बादल छाए रहेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local