मो. इमरान खान, नारायणपुर। अबूझमाड़ के दुर्गम जंगलों में स्वास्थ्य अमला कोरोना के साथ ही मलेरिया से भी जंग लड़ रहा है। इस इलाके में आवागमन के साधन नहीं हैं। ऊंचे पहाड़ों, घने जंगलों में बसे गांवों में नदी-नाले पार करके स्वास्थ्य विभाग की टीम पैदल पहुंच रही है। स्वास्थ्यकर्मी अपने साथ दवाओं का थैला, मलेरिया किट और मच्छरदानी लेकर पहुंच रहे हैं। वह लोगों को कोरोना वायरस से बचाव की जानकारी देने के साथ ही मलेरिया की रोकथाम और नियंत्रण का काम भी कर रहे हैं।

गरपा, होरादी, हांदावाड़ा, कुन्दला, बासिंग जैसे सुदूर गांवों में स्वास्थ्य अमला मेडिकेटेड मच्छरदानी का वितरण कर रहा है। मलेरिया पॉजिटिव लोगों का ब्लड सैंपल लेकर स्लाइड बना रहे हैं। रोगियों को दवाई बांट रहे हैं और गर्भवती माताओं का टीकाकरण कर रहे हैं। यह इलाका मलेरिया के मामले में बेहद संवेदनशील है।

अभी कोरोना ने कोहराम मचाया है, पर इस इलाके में हर साल मलेरिया से कई मौतें होती हैं। यही वजह है कि स्वास्थ्य अमले को यहां दोहरे मोर्चे पर लड़ना पड़ रहा है। कोरोना से बचने के लिए ग्रामीणों को बार-बार हाथ धोने, साफ-सफाई का ध्यान रखने, सर्दी, खांसी, बुखार होने पर गांव के सरपंच, सचिव या स्वास्थ्य मितानिन को तुरंत जानकारी देने की समझाइश दी जा रही है। उन्हें शारीरिक दूरी बनाए रखने के बारे में बताया जा रहा है।

कंधों पर मच्छरदानी और मेडिकिट को उठाकर कई किलोमीटर पैदल चलना आसान नहीं है। उन्हें अपने खाने पीने का सामान भी साथ लेकर जाना होता है। ऐसे दुर्गम इलाके में महिला कई स्वास्थ्यकर्मी अकेले ही स्वास्थ्य व्यवस्था की जिम्मेदारी निभा रही हैं।

जंगल में गुजरती है रात

जाटलूर गांव की नर्स कविता पात्र बताती हैं कि कोराना वायरस से बचाव और मलेरिया या टीकाकरण आदि के लिए घर से निकलती हैं तो कई किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है। यह दूरी लगभग 30-35 किलोमीटर भी हो जाती है। रास्ते में आश्रम शालाओं में रूकना भी पड़ता है। घर वापसी लगभग 3-4 दिन बाद ही होती है। लेकिन बच्चों और मरीजों के मासूम चेहरे सामने आते हैं तो सब कुछ छोड़कर उनकी जिन्दगी बचाने और इलाज करने के लिए जाना ही पड़ता है। यह हमारा कर्तव्य और दायित्व भी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना