किलेपाल। विभागों में आपसी तालमेल के अभाव में ब्लाक में कोरोना का टीकाकरण पिछड़ गया है। जनपद सीईओ दो जगह प्रभार के कारण बास्तानार के कई कार्य में धीमी गति होने की वजह से कोरोना के टीकाकरण में गिरावट आई है। ब्लाक में जिस समय कोरोना महामारी का बहुत ज्यादा प्रकोप दिखाई दे रहा था, जिस गति से कोविड-19 का टीकाकरण चल रहा था। वर्तमान समय में टीकाकरण का गति बिल्कुल ही धीमी हो गई है, किसी भी क्षेत्र में टीकाकरण सेंटर में मेडिकल स्टाफ सुबह से शाम तक बैठे रहने के बावजूद मुश्किल से 10 या 15 लोग ही टीकाकरण सेंटर में आ रहे हैं। जिस समय क्षेत्र में टीकाकरण लगने का होड़ मचा हुआ था तब भी गलत अफवाह के कारण टीकाकरण लोग नहीं करवा रहे थे और अब कोविड-19 का मरीज बहुत कम निकल रहा है, इसलिए टीकाकरण लगवाने का उत्सुकता और खत्म होता दिख रहा है।

इस संबंध में स्वास्थ्य के बीएमओ प्रदीप बघेल ने बताया कि हम भरपूर प्रयास कर रहे हैं, लोगों तक पहुंच रहे हैं। घर-घर पर मोहल्ला टोला मंजर तक जाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं। लेकिन हमारे सहयोगी जो है, पंचायत आंगनवाड़ी मितानिन और जनप्रतिनिधि का सहयोग उस तरह नहीं मिल पा रहा है, जैसा मिलना चाहिए। एकजुटता के साथ सभी हमारा सहयोग नहीं करेंगे तो किसी भी हालत में वैक्सीन कंपलीट नहीं हो पाएगा। पहले जो लगाए दूसरा डोज भी अभी तक कई लोगों ने लगवाया नहीं हैं। 18 साल वाला भी पूरा नहीं हुआ हैं और आने वाले समय बच्चों के लिए 10 हजार वैक्सीन ओर आने वाले हैं, जब अभी बड़े लोगों ने ही टीका नहीं लगवाया हैं छोटे कैसे लगवाएंगे।

अफवाह के कारण कई लोग नहीं आए टीका लगवाने को

मेडिकल विभाग का काम टीकाकरण करवाने का है, इसके लिए जगह सारी जानकारी पंचायत को उपलब्ध करा देते हैं। बावजूद सही सुचारू रूप से प्रचार-प्रसार नहीं हो पाने सही जानकारी नहीं पहुंचने के कारण लोग कम आते दिखाई दे रहे हैं लेकिन जब इसी संबंध में पंचायत प्रतिनिधि सचिवों से बात करने पर उन्होंने ब्लाक में पहले से ही गलत अफवाह के कारण कई लोग टीकाकरण नहीं कराएं बावजूद हम लोगों के समझाइश करने के बाद कुछ लोग लगा रहे है। कुछ लोग दूसरा टीकाकरण भी नहीं लगाएं हम लोग बराबर प्रयास कर रहे हैं।

राजेंद्र नेताम, बीपीएम

प्रयास जारी है

पिछले माह में सबसे ज्यादा 22 सितंबर 480, 23 सितंबर 565, टीकाकरण हुआ हैं। कुल 34 पंचायत में काम से कम प्रति सेंटर से 10 भी हुआ तो 340 टीका लगना चाहिए। इसके लिए प्रयास किया जा रहा है।

गजराज सिंह, पंचायत इंस्पेक्टर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local