बस्तर, भोंड। Bastar Nutrition Campaign : बस्तर जिले के बस्तर विकासखंड के ग्राम पंचायत आड़ावाल के शिक्षक-शिक्षिकाओं द्वारा 16 जनवरी को पंचायत के सभी चार आंगनबाड़ी केंद्रों में गंभीर रूप से कुपोषित 11 बच्चों को गोद लेकर एक संकल्प लिया कि हम अपने पंचायत को कुपोषण से मुक्त रखेंगे उनकी यह पहल अब दिखने लगी है। शैक्षिक समन्वयक शैलेंद्र तिवारी ने बताया कि सभी कुपोषित 11 बच्चों को गोद लेकर शिक्षक 16 जनवरी से नियमित रूप से मोहल्ला क्लास में आने के बाद आंगनबाड़ी केंद्रों एवं घरों में जाकर न केवल उन बच्चों को स्वयं फल खिलाते हैं बल्कि दूध्ा, खीर सहित प्रोटीन युक्त सामग्रियों खिलाकर उनके स्वास्थ्य में सुध्ाार करने का जो प्रयास किया वह अब दिखने लगा है और अनुकरणीय भी है।

सभी बच्चों का बढ़ने लगा वजन: मेहनत तब साकार होने लगती है जब किसी उद्देश्य को लेकर काम किया जाए और वह दिखने लगे। ग्राम आड़ावाल में जब 16 जनवरी 2021 को इन बच्चों को गोद लिया गया था तब निरबति, जयप्रकाश, अजय, कमलेश, कमलू काफी कमजोर थे इन बच्चों का वजन बेहतर पोषण से अब बढ़ने लगा है जो एक उपलब्ध्ाि से कम नहीं है।

इस कार्य मे राबिया कुरैशी, साइना जिलान, विद्या कौशिक, संजना रायचंदानी, जसो बघेल, प्रियंका मिश्रा, अनुराध्ाा उइके, राजेश्वरी ध्ा्रुव, कमलू कश्यप, पीलूराम कश्यप, विष्नु यादव, पीला सिंह ठाकुर का योगदान सराहनीय है। महिला बाल विकास विभाग की पर्यवेक्षिका सुध्ाा श्रीवास्तव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, शोभा निशाद, पार्वती ठाकुर, दयामनी ठाकुर, गोरेती विश्वकर्मा भी निरंतर सहयोग कर उत्साह बढ़ा रही हैं।

Posted By: Ravindra Thengdi

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags