जगदलपुर। खेती किसानी के सीजन में रसायनिक खाद के संकट को लेकर आक्रमक रूख अपनाकर चल रही भाजपा ने बिजली की अघोषित कटौती का नया आरोप लगाया है। बिजली कटौती की गूंज सोमवार को भाजपा किसान मोर्चा द्वारा यहां जिले के धान खरीदी केन्द्रों व सहकारी समितियों के दफ्तरों के बाहर आयोजित धरना प्रदर्शन में सुनाई दिया।

धरना को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश महामंत्री किरण देव ने कहा कि खाद का संकट किसानों को परेशान करके रखे हुए है। सरकार खाद की कालाबाजारी करा रही है। सहकारी समितियों में खाद नहीं है जबकि खुले बाजार में खाद अधिक कीमत पर आसानी से उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि इस बीच कम बारिश से किसान परेशान हैं। विद्युत पंपों से फसल की सिंचाई करना चाहते हैं लेकिन प्रदेश में अघोषित रूप से बिजली कटौती प्रारंभ कर दी गई है। धरना में किसानों ने नगाड़ा बजाकर भी प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद राज्यपाल के नाम पर संबोधित ज्ञापन अधिकारियों को सौंपा गया। जिसमें खाद- बीज संकट, अघोषित बिजली कटौती, वर्मी कम्पोस्ट खाद खरीदने की बाध्यता को दूर करने की मांग की गई है। जगदलपुर शहर में कुम्हारपारा सहकारी समिति और ग्रामीण क्षेत्र में नानगूर, नगरनार तोकापाल में धरना प्रदर्शन का बड़ा आयोजन किया गया था।

धरना को संबोधित करते जिला अध्यक्ष रूपसिंह मंडावी ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा राज्य सरकार की मांग पर खाद की पर्याप्त आपूर्ति कर चुकी है। प्रदेश सरकार बहाने बना रही है। दो रुपये में गोबर खरीदकर 10 रुपये किलो में गुणवत्ताविहीन वर्मी कम्पोस्ट खाद खरीदने की बाध्यता से भी किसानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। किसानों की समस्याओं को लेकर भाजपा द्वारा निरंतर प्रदर्शन आंदोलन किया जा रहा हैं, मगर कांग्रेस राज्य सरकार किसानों के विषय में गंभीर नहीं है। प्रदर्शन के दौरान श्रीनिवास राव मद्दी, योगेन्द्र पाण्डे, श्रीनिवास मिश्रा, रामाश्रय सिंह, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष महेन्द्र सेठिया, योगेश ठाकुर, नरसिंह राव, दीपिका सोरी, राजपाल कसेर, राकेश तिवारी, अभय दीक्षित, रूपेश जैन, संतोष बाजपेई, प्रेम सेठिया, आलोक अवस्थी, बलवंत गुन्नााडे, गजेन्द्र पगाड़े, संतोष पाण्डे, अजय बैरागी, सुप्रियो मुखर्जी, सतीश बाजपेयी, सतीश सेठिया आदि प्रमुख नेता शामिल थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local