जगदलपुर। शहर में बढ़ते ठेला कल्चर के बीच घरेलू सिलेंडरों की कालाबाजारी भी बढ़ गई है। ठेले के अलावा होटल व रेस्टोरेंट में भी घरेलू सिलेंडरों को खपाया जा रहा है। नियम को ताक पर रखकर सड़कों पर रियायती दर के घरेलू सिलेंडर का उपयोग कर व्यवसाय किया जा रहा है। मालूम हो कि गैस पर भी महंगाई की मार लगातार पड़ी है।

इसके बाद गत तीन माह से व्यवसायिक सिलेंडरों के दर में लगातार गिरावट आई है। बावजूद इसके घरेलू सिलेंडरों का उपयोग महज इसलिए किया जा रहा है क्योंकि कालाबाजारी के बावजूद वह व्यापारियों को सस्ता पड़ रहा है। शहर में पांच सौ के करीब ऐसे ठेले हैं जो सुबह से लेकर रात तक नाश्ता व चाय पानी की बिक्री करते हैं। इनमें से आधे से कम ठेले वाले ही व्यवसायिक सिलेंडर का उपयोग करते हैं। बताया गया कि हाल में व्यवसायिक सिलेंडर की दर 15 सौ से लेकर 1520 के बीच है। इसमें 19 किलो गैस होती है।

इसी के विपरीत घरेलू गैस की दर घर पहुंचकर कर 833 रुपये निर्धारित है। घरेलू गैस के लिए दलाल भी बाजार में सक्रिय हैं। ये दूसरों के कार्ड पर घरेलू गैस को लेकर इसकी कालाबाजारी करते हैं। व्यवसायिक उपयोग के लिए घरेलू गैस को हजार रुपये तक दिया जा रहा है। ऐसे में व्यापारी को अधिकतम दो हजार रुपये में 28 किलो गैस मिलता है। इसी के विपरित व्यवसायिक गैस लेने पर उसे 15 सौ रुपये में 19 किलो गैस मिलता है। व्यापारी को करीब नौ रुपये किलो गैस के पीछे बचत होती है। इस कारोबार में होटल और रेस्टोरेंट संचालक भी पीछे नहीं हैं। कुछ व्यवसायिक गैस सिलेंडर के साथ बड़ी तादाद में घरेलू सिलेंडर का भी उपयोग किया जा रहा है।

ज्यादा डिमांड होने पर रियायती दर

जिस होटल या रेस्टोरेंट में घरेलू सिलेंडर की डिमांड अधिक होती है उसे कालाबाजारी करने वाले सौ पचास रुपये कम कर सिलेंडर उपलब्ध करवाते हैं। एक समय में पांच से दस सिलेंडर पहुंचाने से भाड़े की बचत होती है। इसके अलावा ऐसे संस्थान जहां खपत अधिक है वहां पर ज्यादा से ज्यादा सिलेंडर देने की संभावना होती है क्योंकि इन टंकियों को खपने में दो से तीन दिन का समय लगता है।

टीम करेगी जांच और कार्रवाई

हमें शिकायत मिली है, हमने एक टीम बनाकर शहर के अलग अलग इलाके में जांच के निर्देश दिया है। मौके पर जहां भी घरेलू सिलेंडर का उपयोग करते पाया गया उन व्यापारियों या होटल संचालक के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

-अजय यादव, खाद्य नियंत्रक, जगदलपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags