जगदलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

बस्तर से गुजरने वाली किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन पर स्थित स्टेशनों की सफाई के लिए बजट में कटौती और सफाई कर्मियों की छंटनी के बीच भारतीय रेलवे द्वारा आयोजित स्वच्छता पखवाड़ा की बुधवार को यहां स्टेशनों में शुरूआत हुई। 16 से 30 सितंबर तक चलने वाले स्वच्छता पखवाड़ा के पहले दिन स्टेशनों में रेल कर्मचारी एकत्र हुए और साफ-सफाई बनाए रखने की शपथ ली।

गौरतलब है कि इस रेललाइन में कोरापुट को छोड़कर अन्य स्टेशनों में सफाई व्यवस्था के लिए मंडल रेल मुख्यालय से हर माह बजट मिलता है। कोरापुट स्टेशन में साफ-सफाई की व्यवस्था आउटसोर्सिंग के माध्यम से निजी एजेंसी के हवाले है। इस एक स्टेशन को छोड़ अन्य सभी 47 स्टेशनों में साफ-सफाई के लिए 12 हजार से लेकर 20 हजार रूपये तक की राशि खर्च करने का प्रावधान किया गया था। कोविड संकटकाल में इस राशि में भी कटौती कर दी गई है। जगदलपुर, जैपुर जैसे बड़े स्टेशनों को हर माह 20 हजार और छोटे स्टेशनों को 12 हजार रूपये मिलते थे। वाल्टेयर रेलमंडल मुख्यालय से मिले निर्देश के अनुसार अब से उन स्टेशनों को जिन्हें 20 हजार मिलते थे, 10 हजार रूपये मिलेगा और जिन स्टेशनों को 12 हजार रूपये की राशि दी जाती थी, उन्हें छह हजार रूपये ही मिलेंगे। किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन पर स्थित स्टेशनों में कार्यरत दो-तीन स्टेशन अधीक्षकों से चर्चा करने पर नाम न छापने की शर्त पर बताया गया कि जून 2020 से स्टेशनों की साफ-सफाई के लिए राशि जारी नहीं की गई है। ऐसी स्थिति में स्टेशनों की साफ-सफाई कैसे कराई जा सकती है? इस बात को रेल मंडल प्रबंधन को सोचना होगा। इधर तीन माह से अधिक समय से राशि जारी नहीं करने के कारण सफाई कर्मियों की छंटनी करने की विवशता पैदा हो गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020