जगदलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बस्तर दशहरा उत्सव में रथ निर्माण के लिए पेड़ों के कटाई की क्षतिपूर्ति के लिए इंद्रावती बचाओ अभियान समिति ने सोमवार को इंद्रावती तट पर कुम्हड़ाकोट स्थित वनक्षेत्र में पौधरोपण किया। इसमें बस्तर दशहरा समिति के अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज व मांझी, चालकी, मेंबर आदि ने भाग लिया।

इस मौके पर सांसद बैज ने इंद्रावती बचाओ अभियान समिति के द्वारा पर्यावरण संरक्षण एवं पौधरोपण को लेकर चलाए जा रहे अभियान का समर्थन करते कहा कि वह चाहेंगे कि पौधरोपण बस्तर दशहरा उत्सव का अभिन्न अंग बन जाए। इंद्रावती बचाओ अभियान के मार्गदर्शक पद्मश्री धर्मपाल सैनी ने कहा कि बस्तर दशहरा उत्सव पूरी दुनिया में सामुदायिक सरोकार के साथ मनाने के लिए प्रसिद्ध है। बस्तर वन संपदा के लिए चर्चित है तो वन संपदा समृद्ध होना चाहिए। यह तभी संभव है जब बस्तरवासी इसे लेकर जागरूक हों और हर साल कुछ न कुछ संख्या में हर परिवार पौधरोपण का संकल्प लेकर अभियान में हिस्सेदारी करे। उन्होंने कहा कि जगन्नाथ पुरी से जो अच्छी परंपराएं हमने बस्तर दशहरा पर्व में जोड़ी हैं, उसमें पौधरोपण को भी शामिल करने की जरूरत है। कार्यक्रम में इंद्रावती बचाओ अभियान के किशोर पारख, संपत झा, हेमंत कश्यप, डॉ प्रदीप पांडे, सुनील खेंडुलकर आदि के साथ वन संरक्षक मोहम्मद शाहिद, वन मंडलाधिकारी स्टायलो मंडावी व सुषमा नेताम मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस