जगदलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नगरीय निकाय चुनाव के लिए नाम वापसी के अंतिम दिन सोमवार को यहां निगम क्षेत्र में वार्डों से राजनीतिक दलों के दफ्तर और कलेक्टोरेट तक राजनीतिक सरगर्मी चरम पर थी। कांग्रेस और भाजपा दोनों प्रमुख दलों के नेताओं द्वारा अपने-अपने पार्टी के बागियों को मनाने का काम वैसे तो नामांकन पत्रों की जांच के बाद ही शुरू कर दिया गया था लेकिन नाम वापसी के दिन नेता पौ फटने से लेकर दोपहर तीन बजे नाम वापसी की समय-सीमा समाप्त होने तक काफी सक्रिय थे। कांग्रेस से स्थानीय विधायक रेखचंद जैन, शहर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष राजीव शर्मा, प्रदेश प्रवक्ता आलोक दुबे, प्रतापदेव वार्ड से निर्विरोध पार्षद चुने गए ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष यशवर्धन राव आदि सीनियर नेता सुबह के समय मिताली चौक स्थित विधायक कार्यालय में मौजूद रहकर बागियों और निर्दलीयों से फोन पर संपर्क कर समझाने-बुझाने में लगे थे। दोपहर 12 बजे सभी नेता कलेक्टोरेट पहुंचे और वहां बागियों और ऐसे निर्दलीय जिनके बारे में आशंका जताई गई थी कि यह चुनाव में कांग्रेस को नुकसान पहुंचा सकते हैं, उनके संपर्क में थे। दोपहर तीन बजे के बाद चुनाव चिन्ह आवंटन की प्रक्रिया पूरी होते ही कांग्रेस के सभी नेता कलेक्टोरेट से निकलकर कांग्रेस भवन पहुंचे। वहां पार्टी प्रत्याशियों की बैठक में संगठन से जुड़े नेताओं ने प्रचार के टिप्स दिए जिसके बाद प्रत्याशी अपने-अपने वार्डो में निकल गए। दूसरी ओर भाजपा नेताओं में प्रदेश मंत्री किरण देव, जिला अध्यक्ष बैदूराम कश्यप, नगर मंडल अध्यक्ष राजेन्द्र बाजपेई और वरिष्ठ नेता संजय पांडे कलेक्टोरेट की बजाय वहां से 500 मीटर की दूरी पर पार्टी कार्यालय में मौजूद रहकर स्थिति पर नजर बनाए हुए थे। दोनों ही पार्टियों के कुछ बागी तो नाम वापस लेकर चुनाव मैदान से हट गए पर अभी भी डेढ़ दर्जन से अधिक मैदान में डटे हैं।

भाजपा नेताओं की कई टीम मैदान में थी

नाम वापसी के लिए भाजपा के बागियों और कुुछ दमदार माने जा रहे निर्दलीयों को भाजपा के पक्ष में करने के लिए दबाव बनाने पिछले दो दिन से भाजपा की एक दर्जन से अधिक टीमें शहर में सक्रिय थीं। एक दिन पहले भाजपा के कुछ सीनियर नेता बागियों को मनाने उनके घर भी गए थे। कुछ तो मान गए थे तो कुछ ने उपेक्षा का आरोप लगाते नाम वापस लेने से साफ मना कर दिया था। नाम वापसी के दिन तरह-तरह की चर्चा सुर्खियों में थी। बताया गया कि कोई पैसा तो कोई पार्टी संगठन में बड़ा पद मांग रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket