जगदलपुर। कमिश्नर रेलवे सेफ्टी दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र एस मित्रा शुक्रवार को किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन के जैपुर रेलखंड में जैपुर-क्षत्रीपुट स्टेशनों के बीच बिछाई गई नई रेललाइन (रेललाइन दोहरीकरण का कार्य नौ किलोमीटर) का निरीक्षण करेंगे। उनके साथ आधा दर्जन वरिष्ठ अफसरों की टीम के साथ रेलवे के आरडीएसओ (रेलवे डिजाइन स्टेंडर्ड आर्गनाइजेशन) के तकनीकी विशेषज्ञ और रेलमंडल वाल्टेयर के प्रबंधक अनूप सतपथी व अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

50 साल पुरानी किरंदुल-कोत्तावालसा सिंगल रेललाइन के दोहरीकरण की महत्वाकांक्षी परियोजना पर काम चल रहा है। 443 किलोमीटर इस रेललाइन में अभी तक जैपुर से काकलूर और डाकपाल से गीदम तक करीब डेढ़ सौ किलोमीटर में दोहरीकरण कार्य पूर्ण हो चुका है। करीब चार हजार करोड़ रुपये की इस परियोजना के अंतर्गत जैपुर-कोरापुट के बीच भी दोहरीकरण कार्य को आगे बढ़ाया गया है। इसी के अंतर्गत जैपुर से क्षत्रीपुट स्टेशन के बीच नौ किलोमीटर की नई रेललाइन बिछाई गई है।

इसके निरीक्षण के लिए कमिश्नर रेलवे सेफ्टी शुक्रवार को पहुंच रहे हैं। निरीक्षण में सब कुछ सही पाया गया तो इसी माह इन स्टेशनों के बीच भी नई रेललाइन पर रेल आवागमन शुरू हो जाएगा। इधर कमिश्नर रेलवे सेफ्टी के निरीक्षण से पहले बुधवार से रेललाइन में नान इंटरलाकिंग का कार्य इस्ट कोस्ट रेल जोन भुवनेश्वर और वाल्टेयर रेलमंडल से पहुंची टीम ने शुूरू कर दिया है। दो दिन में इस काम को पूरा कर लिया जाएगा। नान इंटरलाकिंग के कारण इस रेललाइन में ट्रेनों की आवाजाही चार दिनों तक प्रभावित रहेगी।

यात्री ट्रेनों में केवल दो ही यात्री ट्रेनें विशखापट्नम-किरंदुल पैसेंजर ट्रेन और सप्ताह में दो दिन चलने वाली विशाखापटनम-किरंदुल नाइट एक्सप्रेस का संचालन जगदलपुर तक किया जाएगा। अन्य दो यात्री गाड़ी भुवनेश्वर-जगदलपुर हीराखंड एक्सप्रेस चार दिन तीन दिसंबर तक और जगदलपुर-राउरकेला इंटरसिटी एक्सप्रेस पांच दिसंबर तक जगदलपुर नहीं आएंगी। इन्हें कोरापुट में रोकने का आदेश जारी किया गया है। झारसुगुड़ा में भी नान इंटरलाकिंग इंटरसिटी रोकी जाएगी।

पांच तक जगदलपुर नहीं भेजने का निर्णय

इधर मंगलवार रात रेलवे ने एक आदेश जारी कर जगदलपुर-राउरकेला इंटरसिटी एक्सप्रेस को तीन दिसंबर की बजाय अब पांच दिसंबर तक जगदलपुर नहीं भेजने का निर्णय लिया है। बताया जाता है कि झारसुगुड़ा क्षेत्र में रेललाइन दोहरीकरण के तहत नान इंटरलाकिंग कार्य को देखते हुए यह गाड़ी तीन दिसंबर तक कोरापुट से राउरकेला के बीच चलाई जाएगी। इसके बाद अगले दो दिन पांच दिसंबर तक इसे राउरकेला में ही रद्द रखा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close