जगदलपुर। जिले में वर्तमान में रोजाना 700 से अधिक लोगों की कोरोना जांच की जा रही है। वहीं जगदलपुर शहर में नौ केंद्रों में कोरोना जांच हो रही है। सोमवार तक बस्तर में 13 एक्टिव मरीज मिल चुके हैं जिनमे तीन मरीज होम आइसोलेशन में रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। कोरोना के बढ़ते संख्या के चलते विभाग एहतियात बरत रहा है।

सीएचएमओ डा डी राजन ने बताया कि त्यौहारी सीजन में लोगों की भीड़ इकट्ठा होना स्वाभाविक है, लेकिन लोगों को ध्यान रखना होगा कि त्यौहार के लिए उनका यह अति-उत्साह अनजाने में कोरोना संक्रमण को आमंत्रण न दे। कोरोना अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में लोगों का बिना मास्क पहने घरों से बाहर निकलना बिलकुल उचित नहीं है और शारीरिक दूरी जैसी महत्वपूर्ण आदत भी नहीं भूलना चाहिए। अभी भी हमें कोरोना गाइडलाइन अनुरूप व्यवहारों का पालन करना अत्यंत आवश्यक है। जिले में बीते एक सप्ताह में एक दर्जन से अधिक कोरोना पॉजिटिव केस मिले हैं। अतः ऐसे में हमें त्यौहारों के अवसर पर और उसके बाद भी मास्क का प्रयोग, दो गज की दूरी और हाथ की धुलाई को आदत में शामिल करना नितांत आवश्यक है।

घरों में खुशियां लाएं कोरोना संक्रमण नहीं

स्वास्थ्य विभाग ने आम जनों से जारी अपील में कहा है कि वे अपने घरों में खुशियां लाएं कोरोना संक्रमण नहीं। शहरी क्षेत्रों में बाजारों, सड़क व सार्वजनिक जगहों पर लोगों की लापरवाही भारी पड़ सकती है। अपनी सुरक्षा के लिए अत्यधिक भीड़-भाड़ वाले जगहों से जितना संभव हो बचें, मास्क लगाएं, दूरी बना कर रखें, साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें। जिले में कोरोना की स्थिति पर स्वास्थ्य अमला नजर बनाए हुए हैं।

दूसरा डोज ज्यादा असरकारी

त्यौहारी सीजन को देखते हुए कोरोना वैक्सीन के प्रथम डोज लगवा चुके जिलेवासियों से सेकंड डोज लगवाने की अपील करते हुए कहा गया है कि दूसरे डोज का टीका कोरोना वायरस से लड़ने में ज्यादा असरकारी सिद्ध होगा। इसलिए सभी को कोरोना टीकाकरण का सेकंड डोज अनिवार्य रूप से लगवाना चाहिए। इसके अतिरिक्त लोग स्वास्थ्य विभाग की ओर से समय -समय पर जारी निर्देशों का नियमित रूप से पालन करें। जिन लोगों ने टीके के दोनों डोज लगवा लिये हैं वे भी कोरोना अनुरूप व्यवहार का पालन करें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local