जगदलपुर(ब्यूरो)। नक्सलियों के दरभा डिवीजनल कमेटी के स्माल एक्शन ग्रुप द्वारा बोधघाट थाना क्षेत्र के आसपास सप्ताह भर पहले रेकी करने की पुख्ता सूचना खुफिया विंग को मिली है। इस आधार पर संभागीय मुख्यालय जगदलपुर में सुरक्षा बलों के कैम्प एवं वीआईपी निवासों को नक्सलियों द्वारा निशाना बनाने की चेतावनी जारी की गई है।

सूत्रों के मुताबिक सप्ताह भर पहले तीन सदस्यीय नक्सलियों का दल शहर में सक्रिय था। ग्रामीण वेशभूषा में पीटीएस बोधघाट, पुलिस लाइन तथा थानों के आसपास की रेकी भी की गई है। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने नक्सलियों की घेराबंदी की कोशिश की लेकिन वे रफूचक्कर हो गए थे। इधर इंटेलीजेंस ब्यूरो ने अलर्ट जारी करते हुए चेतावनी दी है कि नक्सली संभाग मुख्यायल स्थित फोर्स के कैंप अथवा वीआईपी बंगलों व दफ्तरों में हमला कर सकते हैं।

सुरक्षा बढ़ाई गई

नक्सल वारदात की सूचना के बाद जगदलपुर शहर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। यहां स्थित सांसद दिनेश कश्यप, मंत्री केदार कश्यप, विधायक संतोष बाफना व अन्य जन प्रतिनिधियों की सुरक्षा की दर्जे के अनुरूप समीक्षा की जा रही है। वहीं वरिष्ठ अधिकारियों आईजी, कमिश्नर, कलेक्टर व एसपी दफ्तरों व आवासों में भी कड़ी सुरक्षा की गई है। बिना तलाशी किसी के भी प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया गया है। आपात स्थिति से निपटने फोर्स को सुरक्षा व एहतियात बरतने की समझाइश दी गई है।

'अलर्ट के चलते जिले में सुरक्षा चाक-चौबंद की गई है। आपात स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षा बल पूरी तरह तैयार हैं।' -अजय यादव, एसपी बस्तर