जगदलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बीते शुक्रवार की रात ठाकुर रोड स्थित व्यावसायिक परिसरों में भीषण आगजनी के बाद प्रशासन ने अवैध पटाखा कारोबारियों के विरूद्ध नकेल कसना शुरू कर दिया है। इस क्रम में हाल में ही शहर के प्रमुख पटाखा व्यापारी सुनील जैन समेत महादेव घाट, आड़ावाल व पंडरीपानी की ओर अवैध परिवहन करते हुए करीब आठ लाख रूपए का पटाखे का भंडारण जब्त किया गया है। इन मामलों में पटाखों के सैम्पल फोरेंसिक परीक्षण के लिए भेजे गए हैं, जहां उनकी ज्वलनशीलता आदि की रपट मिलने के बाद इन व्यापारियों के विरूद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

बीते शुक्रवार को ठाकुर रोड के पटाखा कारोबारी पटवा व बाजू के दुकानों में भीषण आग लग गई थी, इस पर काबू पाने के लिए प्रशासनिक अमले ने पूरी ताकत झोंक दी थी। घटना के बाद एसडीएम बस्तर ने गोलबाजार के पटाखा व्यवसायी सुनील जैन को शहर की दुकान से पंडरीपानी पटाखे का स्टाक अवैध परिवहन करते हुए पकड़ा था। उसके कब्जे से साढे चार लाख का पटाखा जब्त किया गया। इसी प्रकार आडावाल निवासी अमित कुमार से करीब ढाई लाख का स्टाक जब्त किया गया। इसके अलावा खम्हारगांव से भी अवैध स्टाक भी बरामद किया गया। इन सभी प्रकरणों में किसी के पास लाइसेंस होना नहीं पाया गया है। एसडीएम जीआर मरकाम ने बताया कि मामले में जांच के उपरांत कलेक्टर को प्रतिवेदन सौंपा गया है। आरोपियों के विरूद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जानी है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि फोरेंसिक रिपोर्ट मिलने के बाद संबंधित लोगों के विरूद्ध विस्फोटक अधिनियम के तहत मामला पंजीबद्ध किया जाएगा।

--