जगदलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बस्तर अंचल में दीपावली मनाने से पहले सोमवार को चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव के लिए हुए मतदान में उत्साहपूर्वक शामिल होकर यहां के मतदाताओं ने वोट तिहार मनाया। कहीं पहाड़ी चढ़कर लंबी दूरी तय करते हुए वोट डालने ग्रामीण पहुंचे थे तो कहीं डोंगी में नदी पार कर मतदान करने आए थे। मतदान के प्रति सभी वर्गों खासकर महिला मतदाताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। महिलाओं का ऐसा जज्बा कि अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ डोंगी से नदी पार कर मतदान के लिए पहुंची। लोहण्डीगुड़ा विकासखण्ड के ग्राम काटाबांसा इन्द्रावती नदी से घिरा है। यहां की महिलाएं अपने गांव से दो किलोमीटर पैदल चलकर नदी तक पहुंची और उसके बाद डोंगी से नदी पार कर करेकोट मतदान केन्द्र पहुंच मतदान किया। बिंता घाटी क्षेत्र में बसे गांवों में भी लोगों में मतदान को लेकर खासा उत्साह देखने को मिला।

80 साल की रामबती ने भी किया मतदान

लोहंडीगुड़ा विकासखंड के दूरस्थ ग्राम बिन्ता की 80 साल की श्रीमती रामबती ने इस बार भी मतदान किया। उन्होंने बताया कि जब भी चुनाव होते हैं, वह मतदान जरूर करती हैं और दूसरों को भी मतदान करने के लिए प्रेरित करती हैं। ग्राम दियारी पारा की श्रीमती अंजली ने अपनी सास श्रीमती जिमे के साथ छापर भानपुरी मतदान केन्द्र पहुंचकर मतदान किया। श्रीमती अंजली को आठ माह का गर्भ है।

मतदान के दौरान वीवीपेट बदले गए

मतदान के दौरान तकनीकी खराबी के कारण मतदान केन्द्र ककनार-1 और कलेपाल के वीवीपेट बदले गए। मतदान के पहले मॉकपोल के दौरान तकनीकी खराबी आने के कारण मतदान केन्द्र सोनारपाल और बास्तानार-2 में वीवीपेट बदले गए। मॉकपोल के समय मतदान केन्द्र बड़े किलेपाल-2 में कन्ट्रोल यूनिट बदला गया। मतदान केन्द्र इड़जेपाल में कन्ट्रोल यूनिट, बैलेट यूनिट और वीवीपेट तीनों को बदला गया।

डॉ तंबोली ने जताया आभार

कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ अयाज तंबोली शांतिपूर्ण और निर्वि्रन मतदान सम्पन्न होने पर चित्रकोट विधानसभा क्षेत्र के सभी मतदाताओं के प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं की लोकतंत्र के प्रति आस्था और मतदान के प्रति उनके उत्साह के कारण ही निर्वि्रन मतदान सम्पन्न हो पाया। डॉ तम्बोली ने सुरक्षा में लगे जवानों तथा मतदान कार्य में लगे सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के प्रति भी आभार व्यक्त किया है।

Posted By: Nai Dunia News Network