जगदलपुर। Jagdalpur News: नक्सलियों के शीर्ष नेता और माओवादी सेंट्रल कमेटी के पूर्व मुखिया कुख्यात गणपति उर्फ लक्ष्मण राव के आत्मसमर्पण करने की खबर है। बस्तर आइजी सुंदरराज पी ने कहा है कि उन्हें भी ऐसी सूचना मिली है। हालांकि अब तक इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। बस्तर पुलिस आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र और ओडिशा पुलिस के लगातार संपर्क में है।

बता दें कि तेलंगाना के करीमनगर जिले के सारंगपुर निवासी गणपति 30 साल से माओवादी आंदोलन में सक्रिय है। वह लंबे समय तक माओवादियों की सेंट्रल कमेटी का सचिव रहा। वर्ष 2018 में स्वास्थ्यगत कारणों से उसने इस्तीफा दे दिया था। उसकी उम्र करीब 80 साल है। उस पर 36 लाख रुपये का इनाम घोषित है।

माना जाता है कि गणपति अबूझमाड़ के घने जंगलों में वर्षों से कहीं दुबका हुआ है। सार्वजनिक रूप से विरले लोगों ने ही उसे देखा है। गणपति का नाम माओवादी विचारधारा को खूनी रास्ते पर ले जाने वाले शीर्ष रणनीतिकारों में शुमार किया जाता है। यदि गणपति का आत्मसमर्पण सही साबित होता है तो यह दंडकारण्य के नक्सल आंदोलन के लिए बहुत बड़ा झटका होगा।

खत्म हो रहा नक्सली नेतृत्व

बीते कुछ वर्षों में नक्सलियों के कई शीर्ष नेता या तो मारे जा चुके हैं या गिरफ्तार हो चुके हैं। कुछ महीने पहले दंडकारण्य के शीर्ष नक्सली रमन्ना की मौत हो चुकी है। ऐसे में अब नक्सली आंदोलन के बिखरने की संभावना जताई जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020