- 41 वर्षों से लगातार स्थिरता और विकास के लिए मिला पुरस्कार

रायपुर। नईदुनिया राज्य ब्यूरो

एमएमडीसी बचेली कॉम्पलेक्स को टाटा स्टील सस्टेनिबिलिटी अवार्ड 2017-18 से सम्मानित किया गया है। पिछले मंगलवार को नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह में एनएमडीसी बचेली कॉम्पेक्स के जीएम अरूण कुमार शुक्ला ने केंद्रीय खनिज और पंचायत मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के हाथों यह पुरस्कार ग्रहण किया। इस पुरस्कार की स्थापना फेडरेशन ऑफ इंडियन मिनरल इंडस्ट्रीज (फिमी) ने इसी साल की है। एनएमडीसी बचेली को पहला पुरस्कार मिला है। ज्ञात हो कि एनएनडीसी बचेली में 1977 से लौह अयस्क का उत्खनन कर रहा है। पिछले 41 वर्षों से कंपनी ने लगातार खनन के साथ सामाजिक दायित्वों का भी निर्वाह किया है। कंपनी को जैव विविधता, पर्यावरण संरक्षण, सामाजिक दायित्व, स्वास्थ्य और सुरक्षा के क्षेत्र में निरंतर काम करने के लिए यह पुरस्कार दिया गया है। ज्ञात हो कि एनएमडीसी की सभी खदानों को इंडियन ब्यूरो ऑफ माइंस की ओर से पांच सितारा ग्रेड दिया गया है। इससे पहले फिमी ने 2016 में बचेली कॉम्पलेक्स को गोल्डन जुब्ली अवार्ड से भी सम्मानित किया था। एनएमडीसी (नेशनल मिनरल डवलपमेंट कार्पोरेशन) केंद्र सरकार का उपक्रम है। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में स्थित बैलाडीला के पहाड़ों पर एनएमडीसी की लौह अयस्क की खदानें हैं। बैलाडीला परियोजना में कंपनी बचेली और किरंदुल कॉम्पलेक्स में कंपनी की खदानें हैं।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket