जगदलपुर। कोरोना लहर की तीसरी खतरनाक लहर ही आशंका के मद्देनजर शासन द्वारा शत-प्रतिशत टीकाकरण का प्रयास किया जा रहा है। मुख्यालय में कोविडशील्ड व कोवैक्सीन का पर्याप्त स्टाक रखा गया है पर लोगों में वैक्सीन लगाने के प्रति जागरूकता का अभाव देखा जा रहा है। बीते एक मार्च से एक दिसबंर तक की स्थिति में प्रथम डोज में तय लक्ष्य का 75.11 फीसद तथा सेकंड डोज का 43.24 फीसद ही टीकाकरण किया जा सका है।

ज्ञात हो कि प्रशासन द्वारा टीकाकरण के प्रति जन जागरूकता के ध्येय से प्रचार रथ का संचालन भी शहर समेत ग्रामीण इलाकों में किया गया। कोरोना के नए वायरस के खतरे की चेतावनी के उपरांत स्वास्थ्य विभाग की टीमें डोर टु डोर वैक्सीनेशन भी करवा रही हैं। साथ ही चार दिसंबर को महाभियान भी चलाया जान है। इन तमाम कवायदों का प्रभावी परिणाम नजर नहीं आ रहा है। वहीं स्वास्थ्य महकमा महंगे वैक्सीन के खराब होने की आशंका से भी चिंतित है। विभाग की ओर से जिले में छह लाख आठ हजार 398 लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्‌य रखा गया था। वहीं तय लक्ष्‌य के तुलना में पहले डोज में 75.11व दूसरे डोज में 43.24 फीसद लक्ष्‌य पूर्ति ही हो सका है।

ग्रामीण क्षेत्र में भ्रांति

टीकाकरण की प्रक्रिया के दौरान विभाग की ओर से बेहतर प्रबंधन किया जा रहा है। लाभर्थी को वैक्सीन का डोज देने के बाद निर्धारित समय तक उसकी निगरानी भी रखी जाती है। किसी किस्म का साइड इफेक्ट होने पर त्वरित उपचार की सुविधा भी है। हालांकि जिले में वैक्सीन लगवाने के बाद कुप्रभाव के एक भी मामले नहीं मिले हैं। इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में टीका को लेकर भ्रम की स्थिति देखी जा रही है। लोगों में अफवाह है कि वैक्सीन लगाने के बाद स्वास्थ्य खराब हो जाता है।

ब्लाकवार आकंड़े (एक मार्च से एक दिसबंर की स्थिति तक )

ब्लाक- लक्ष्‌य - पहला डोज- दूसरा डोज-प्रतिशत पहला डोज- प्रतिशत दूसरा डोज

बकावंड 111904 85246 34295 76.18 40.23

बास्तानार 36100 21480 8642 59.50 40.23

बस्तर 122561 92611 29668 75.56 32.04

दरभा 41191 29173 11562 70.42 39.63

लोहंडीगुड़ा 56842 41916 18204 73.74 43.43

तोकापाल 57898 43204 18561 74.62 42.96

जगदलपुर ग्रामीण 80799 66689 26490 82.54 39.72

जगदलपुर शहरी 101103 76623 51524 75.79 67.24

जारूकता की कमी

लोगों में वैक्सीनेशन के प्रति जारूकता की कमी देखी जा रही है। विभाग की ओर से शतप्रतिशत टीकाकरण के ध्येय से हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। चार दिसबंर से महाभियान भी चलाया जाएगा।

डा. एआर गोटा, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local