जगदलपुर। कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार ने किरंदुल-विशाखापट्टनम स्पेशल एक्सप्रेस यात्री ट्रेन में यात्रियों की संख्या में कमी ला दी है। लोग सफर से बचने की कोशिश में लग गए हैं। बीमार लोग और उनके परिजन ही इस ट्रेन में ज्यादा नजर आते हैं। केवल इसी ट्रेन में यात्रियों की संख्या घट रही है ऐसा नहीं है, बस्तर से नजदीकी रेलवे जंक्शन रायपुर, विशाखापट्टनम जाकर वहां से ट्रेन पकड़ने वालों की संख्या में भी कमी आई है।

15 मार्च के बाद से जैसे-जैसे कोरोना वायरस के संक्रमण में विस्तार हो रहा है, वैसे-वैसे यहां बस्तर में किरंदुल, दंतेवाड़ा और जगदलपुर स्थित रेलवे के कम्प्यूटरीकृत रेल टिकट आरक्षण केंद्रो में रिजर्वेशन वालों की संख्या भी घट रही है।

पिछले एक सप्ताह में इन टिकट आरक्षण केंद्रों में टिकटों की बिक्री आधी हो चुकी है। आगामी दिनों में ट्रेन े में यात्री और भी कम हो सकते हैं। बताया गया कि 10 दिन पहले जहां जगदलपुर स्टेशन में टिकटों से 70 हजार से एक लाख रूपए तक की आय हो रही थी वहीं यह आंकडा अब 30 से 35 हजार के बीच सिमट गया है।

स्टेशन मैनेजर जगदलपुर एसएस चंद्रा से चर्चा करने पर उन्होंने बताया कि किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन में इन दिनों केवल एक ही यात्री ट्रेन चल रही है। किरंदुल से विशाखापट्टनम के बीच चलने वाली इस ट्रेन से रोजाना करीब 70 से 80 लोग ही यहां से उतरते और चढ़ते हैं जबकि 15 दिन पहले 100 से 150 लोग सफर करते थे। इधर यात्री ट्रेन में यात्रियों की संख्या भले ही कम हुई है लेकिन मालगाड़ियों की आवाजाही पर कोई असर नहीं पड़ा है। पिछले माह मार्च में गत वित्तीय वर्ष की समाप्ति के बाद अप्रैल माह में भले की मालगाड़ियों की संख्या कुछ कम हुई है लेकिन आगामी दिनों में मालगाड़ियों की संख्या बढ़ेगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags