Railway Bastar News: जगदलपुर। कोरोना संक्रमण के कमजोर पड़ने के बाद देश भर में अधिकांश यात्री ट्रेनें पटरी पर दौड़ने लगी हैं लेकिन बस्तर में एक-एक ट्रेन शुरू कराने के लिए बस्तरवासियों को एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है। रेल शुरू करने की मांग को लेकर रेलमंत्री से प्रत्यक्ष मुलाकात करने के अलावा रेलवे बोर्ड और स्थानीय स्तर पर जोन से लेकर मंडल मुख्यालय तक बस्तर के जनप्रतिनिधियों और आम लोगों तक ने पत्रों-प्रपत्रों का आदान प्रदान किया पर कोई ठोस परिणाम नहीं निकल सका है।

कोरोना काल के पहले नियमित चलने वाली किरंदुल-विशाखापट्टनम नाइट एक्सप्रेस को सप्ताह में दो दिन चलाने पर रेलवे बोर्ड राजी हुआ है। यह ट्रेन दो अक्टूबर से पटरी पर दौड़ने लगी है लेकिन समलेश्वरी एक्सप्रेस के संचालन को लेकर रेलवे का मौन भारी पड़ रहा है। रेलवे बोर्ड ने 23 सितंबर को आदेश जारी कर नाइट एक्सप्रेस को सप्ताह में दो दिन और हावड़ा-जगदलपुर समलेश्वरी एक्सप्रेस को चार दिन चलाने की अनुमति दे चुका है। नाइट एक्सप्रेस सप्ताह में दो दिन आना-जाना करने लगी है लेकिन बोर्ड के आदेश के 18 दिनों बाद भी समलेश्वरी एक्सप्रेस का संचालन शुरू नहीं हो पाया है।

ज्ञात हो कि समलेश्वरी एक्सप्रेस में बड़ी संख्या में बंगाल और ओड़िशा से पर्यटक बस्तर आते हैं। साल में सबसे ज्यादा पर्यटक बस्तर दशहरा के समय समलेश्वरी एक्सप्रेस से आते-जाते थे। पिछले साल कोरोना के कारण ट्रेनें और पर्यटक स्थल दोनों ही बंद थे। हालांकि इस साल पर्यटक स्थल खुल गए हैं, लेकिन समलेश्वरी एक्सप्रेस का संचालन बंद है। सांसद दीपक बैज का कहना है कि रेलवे को किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन में आंध्रप्रदेश स्थित पर्यटक स्थल अरकू और बोर्रागुहालू की चिंता ज्यादा है।

इसी लाइन पर स्थित बस्तर की नहीं है। रेलवे बोर्ड से समलेश्वरी एक्सप्रेस के परिचालन की अनुमति मिलने के 18 दिनों बाद भी यदि यह गाड़ी बस्तर नहीं भेजी जा रही है तो यह सीधे-सीधे अफसरशाही को दर्शाता है। रेलवे यदि चाहता है कि यात्री ट्रेन का परिचालन शुरू कराने के लिए आंदोलन ही जरूरी है तो इसके भी वे तैयार हैं।

कलेक्टर ने साधा मंडल मुख्यालय से संपर्क

बस्तर में पर्यटन को बढ़ावा देने में लगे जिला प्रशासन को समलेश्वरी एक्सप्रेस का संचालन बंद होने से गहरी निराशा है। मिली जानकारी के अनुसार कलेक्टर रजत बंसल ने शनिवार को वाल्टेयर रेलमंडल के प्रबंधक अनूप कुमार सतपथी से फोन पर चर्चा कर समलेश्वरी एक्सप्रेस के संचालन को लेकर चर्चा की है। बताया जाता है कि समलेश्वरी का संचालन शुरू नहीं किए जाने को लेकर कोई ठोस जवाब रेल अधिकारी नहीं दे सके हैं।

आंध्रप्रदेश के दबाव में शुरू की ट्रेन

कोरोना संकटकाल में लाकडाउन के समय बंद रही यात्री ट्रेनों का दोबारा संचालन शुरू होने पर किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन में सबसे पहली ट्रेन किरंदुल-विशाखापट्टम स्पेशल एक्सप्रेस का संचालन 18 दिसंबर 2020 को शुरू किया गया था। आंध्रप्रदेश सरकार और आंध्रप्रदेश पर्यटन बोर्ड की मांग और दबाव में अरकू और बोर्रागुहालू तक पर्यटकों की आवाजाही बढ़ाने इस ट्रेन को शुरू किया गया। ज्ञात हो इसी ट्रेन में पर्यटक कोच विस्टाडोम को जोड़कर चलाया जाता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local