जगदलपुर। शहर के एजुकेशन हब धरमपुरा में अंतरराष्ट्रीय मानक स्तर की खेल सुविधाओं के विस्तार को लेकर क्रीड़ा परिसर में चल रहे निर्माण कार्यो ंका मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अवलोकन किया। दो दिन के जगदलपुर दौरे के पहले दिन सोमवार को क्रीड़ा परिसर पहुंचे मुख्यमंत्री को कलेक्टर रजत बंसल ने निर्माण कार्यों की विस्तार से जानकारी दी।

इस मौके पर भूपेश बघेल ने क्रीडा परिसर में निर्माणाधीन कार्यों की प्रगति की जानकारी लेने के बाद बस्तर के खेल शिक्षकों व खिलाड़ियों से भी मुलाकात की। बताया गया कि क्रीडा परिसर में 400 मीटर के सिंथेटिक एथलेटिक्स ट्रैक का निर्माण अंतरराष्ट्रीय मापदंडों के आधार पर हो रहा है। ट्रैक के निर्माण में इस्तेमाल होने वाला वी मैक्स नाम का मटेरियल स्विट्जरलैंड में निर्मित होता है। 27 एकड़ क्षेत्र में अत्याधुनिक खेल परिसर को विकसित करके चार अलग-अलग खेलों के लिए करीब 17 करोड़ की लागत से मैदान तैयार किए जा रहे हैं। एथलेटिक्स, तीरंदाजी, वालीबाल, हैंडबाल, खो-खो, कबड्डी के लिए इंडोर स्पोर्स्ट्स हाल का भी निर्माण कार्य किया जा रहा है। क्रीडा परिसर में एक अलग खेल मैदान के साथ ही लंबी व उᆬंची कूद के लिए भी अलग से स्थान सुरक्षित किया गया है।

क्रीडा परिसर में सात करोड़ 46 लाख की लागत से 400 मीटर के आठ लेन एथलेटिक्स ट्रेक, चार करोड़ 72 लाख की लागत से 200 मीटर के छह लेन, प्रेक्टिस एथेलेटिक्स ट्रेक तथा तीरंदाजी सह ट्रेनिंग सेंटर व चार करोड़ 38 लाख की लागत से मल्टीपरपज इंडोर स्पोर्ट्स हाल का निर्माण हो रहा है। इन निर्माणाधीन कार्यों के पूर्ण हो जाने पर बस्तर संभाग के खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर के खेल मैदान में खेलने का अनुभव मिलेगा। क्रीडा परिसर में तैयार हो रहे पैवेलियन में एक साथ 1550 दर्शकों के बैठने की व्यवस्था होगी।

यह सुविधा केवल बस्तर में होगी

दर्शकों के लिए पार्किंग की भी व्यवस्था की गयी है जिसमें एक साथ 340 चार पहिया वाहनों की पार्किंग हो सकेगी। क्रीड़ा परिसर में एथलेटिक्स ट्रैक के निर्माण हो जाने से यहां पर ट्रैक एंड फील्ड के सभी स्पर्धाओं का आयोजन हो सकेगा। छत्तीसगढ़ में ऐसा पहली बार हो रहा है कि एथलेटिक्स के 400 मीटर मेन ट्रेक के साथ ही 200 मीटर के वार्मअप सिंथेटिक एथलेटिक्स ट्रेक का निर्माण भी किया जा रहा है। वर्तमान में यह सुविधा छत्तीसगढ़ में सिर्फ बस्तर में ही उपलब्ध होगी।

निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री के साथ प्रभारी मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज, बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, संसदीय सचिव रेखचंद जैन, महापौर सफीरा साहू, क्रेडा अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार, मछुवा कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष एम आर निषाद आदि भी मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local