Student Issue In Jagdalpur: जगदलपुर। छत्‍तीसगढ़ के इंद्रावती नदी के किनारे घाट कवाली प्राइमरी स्कूल के 56 बच्चों को रोज मध्याह्न भोजन करने के बाद बर्तन धोने आधा किमी दूर जूनापारा जाना पड़ रहा है। स्कूल परिसर में लगे हैंडपंप के डेढ़ महीने से बंद पड़े होने के कारण यह स्थिति बनी है। ग्राम पंचायत घाट कवाली व जगदलपुर स्थित पीएचई कार्यालय में शिकायत करने के बावजूद अभी तक हैंडपंप सुधारने की दिशा में कोई पहल नहीं हो पाई है।

घाट कवाली के भाटापारा में वर्ष 2005 में प्राथमिक शाला शुरू हुई थी। इसमें फिलहाल 31 बालिका और 25 बालक अध्ययनरत हैं। 16 साल पुराने स्कूल के परिसर में पुराना हैंडपंप है, जिसे सोलर सिस्टम से जोड़ दिया गया है परंतु हैंडपंप खराब होने की वजह से जल प्रदाय की व्यवस्था बंद पड़ी है।

मध्याह्न भोजन पकाने में भी परेशानी

शाला के प्रधानपाठक हेमंत ध्रुव ने बताया कि हैंडपंप खराब होने के कारण जहां मध्याह्न भोजन पकाने में भी परेशानी होती है। इस समस्या के संदर्भ में स्थानीय सरपंच सुबति कश्यप व पीएचई कार्यालय जगदलपुर में चार बार शिकायत दर्ज कराई गई है, परंतु हैंडपंप को सुधारा नहीं गया। जल समस्या को देखते हुए सरपंच से अस्थायी तौर पर टैंकर उपलब्ध कराने की मांग भी की गई परंतु स्कूल की जल समस्या को दूर करने की दिशा में भोजन के समय भी टैंकर की व्यवस्था नहीं की गई है। बच्चे जूठा बर्तन लेकर दूर जाते हैं इसलिए पढ़ाई में भी बाधा आ रही है।

शीघ्र सुधरेगा हैंडपंप

घाट कवाली भाटापारा प्राइमरी स्कूल में हैंडपंप बंद होने की सूचना मुझे नहीं दी गई है। नईदुनिया से यह जानकारी मिली। बिगड़ा हैंडपंप जल्द सुधार लिया जाएगा।

भारती प्रधान, जिला शिक्षा अधिकारी, बस्तर।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local