जगदलपुर। किरंदुल-कोत्तावालसा रेललाइन के नक्सल प्रभावित सभी स्टेशनों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इसकी शुरुआत ओड़िशा के कोरापुट और बस्तर के जगदलपुर स्टेशन से हो चुकी है। इन दोनों स्टेशनों में कैमरे लगाने का काम भी पूरा हो गया है। परीक्षण का काम चल रहा है। हर स्टेशन में अंदर और बाहरी परिसर दोनों क्षेत्रों में कैमरे लगाए गए हैं। साथ ही कुछ कैमरे ऐसी जगहों पर भी लगाए जा रहे हैं जहां से मालगाड़ियों के डिब्बों पर भी नर रखी जा सकेगी।

ज्ञात हो कि इस रेललाइन पर जगदलपुर से किरंदुल की ओर बस्तर एवं दंतेवाड़ा जिले के अंतर्गत आरापुर से किरंदुल तक 125 किलोमीटर का क्षेत्र नक्सल प्रभावित माना गया है। इसी तरह ओड़िशा में कोरापुट से दारलीपुर तक करीब 60 किलोमीटर का क्षेत्र भी प्रभावित इलाकों में शामिल है। हालांकि ओड़िशा के इस इलाके में पिछले कई सालों से कोई वारदात सामने नहीं आई है। विदित हो कि जुलाई 2005 में इस रेललाइन में पहली नक्सली वारदात ओड़िसा-आंध्रप्रदेश की सीमा पर स्थित दारनीपुट स्टेशन में ही सामने आई थी। तब स्टेशन भवन के एक हिस्से में आगजनी करके नुकसान पहुंचाया गया था।

दूसरी ओर यहां बस्तर और दंतेवाड़ा जिले में बीते 15 सालों में नक्सली तीन सौ से अधिक वारदात रेललाइन पर कर चुके हैं। इस लाइन में लौह अयस्क ढोने वाली मालगाड़ियों में दंतेवाड़ा जिले से सागौन की लकड़ी की तस्करी भी होती आ रही है। सागौन तस्करी के कई मामले पकड़े जा चुके हैं। तस्कर मालगाड़ी के डिब्बों में लौह अयस्क के उपर सागौन के स्पीलर डालकर आंध्रप्रदेश भेजते हैं। सीसीटीवी कैमरे से डिब्बों के ऊपरी हिस्से पर भी नजर रखी जा सकेगी।

गांजा की तस्करी के मामले भी हुए हैं उजागर

विदित हो कि यहां से गुजरने वाली यात्री ट्रेनों में ओड़िशा से गांजा की तस्करी के भी मामले भी उजागर हुए हैं। कोरापुट सेक्शन में दो घटनाएं ऐसी भी हो चुकी हैं जब चलती ट्रेन से गांजा के पैकेट स्टेशन यार्ड में गिराए गए थे। इन सब घटनाओं को देखते हुए रेललाइन के सभी प्रमुख स्टेशनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने की योजना से अनैतिक कारोबार पर अंकुश लगने की उम्मीद की जा रही है।

निगरानी में मिलेगी मदद

जगदलपुर स्टेशन में सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं। इससे स्टेशन के अंदर और बाहर परिसर दोनों क्षेत्रों की निगरानी हो सकेगी। यात्री ट्रेनों और मालगाड़ियों पर भी नजर बनी रहेगी।

-एसएस चंद्रा, स्टेशन अधीक्षक जगदलपुर।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags