जगदलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

मेकॉज में बुधवार को ओडिसा निवासी दो कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। परिजनों द्वारा शव ओडिसा ले जाने की इच्छा जताए जाने पर स्थानीय प्रशासन द्वारा कोरापुट जिला प्रशासन से संपर्क साधा पर उन्होंने शव सुपुर्दगी की प्रक्रिया से पल्ला झाड़ लिया। अब परिजनों की सहमति पर बस्तर में ही शवों का अंतिम संस्कार करने की बात कही जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जैपुर निवासी 51 वर्षीय पुरूष व कोटपाड़ निवासी 48 वर्षीया महिला की दो दिन पूर्व तबीयत बिगड़ने पर मेकॉज लाया गया था। यहां जांच उपरांत कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनका कोविड वार्ड में उपचार चल रहा था। बुधवार सुबह दोनों की मौत हो गई। इसके बाद सूचना पर परिजन पहुंचे। परिजनों ने शवों को गृह निवास ले जाने की इच्छा जताई। इसकी जानकारी जिला प्रशासन को दी गई। स्थानीय प्रशासन ने शवों को ओडिसा भेजने की व्यवस्था की और कोरापुट जिला प्रशासन से मजिस्ट्रियल अधिकारी को शव सुपुर्दगी की प्रक्रिया पूरी कर भेजने कहा। कोरापुट कलेक्टर एच पाढ़ी ने मानक संचालन प्रक्रिया का हवाला देते शव ले जाने से इंकार किया। उन्होंने बस्तर में ही शवों का प्रबंधन करने की बात कही। इधर जानकार बताते हैं कि बाहरी प्रांत के व्यक्ति की कोरोना से मौत होने पर कार्यपालिक दंडाधिकारी की मौजूदगी में शव ले जाया जा सकता है। डिप्टी कलेक्टर प्रवीण वर्मा ने बताया कि शवों को भेजने की आवश्यक तैयारी की गई थी पर वहां के प्रशासन ने अनुमति नहीं दी। लिहाजा शवों का अंतिम संस्कार परिजनों की मौजूदगी में सम्मानपूर्वक किए जाने की तैयारी की जा रही है। शवों को मरच्यूरी में रखवाया गया है। उल्लेखनीय है कि मेकॉज में इसके पूर्व 16 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। इनमें से पांच महिलाएं व शेष पुरूष हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020