बचेली। Jagdalpur News : इंसान अपनी इच्छा शक्ति से प्रत्येक कार्य संपादित कर सकता है। इसका उदाहरण बचेली निवासी संदीप दीक्षित हैं। जिन्होंने कारगिल के बलिदानी जवानों को पुनर्जीवित करने उनकी याद में एक वन विकसित करने का मन बनाया ताकि बलिदानी जवान पेड़ के रुप में पर्यावरण में योगदान देकर देश सेवा मानव सेवा कर सकें। उन्होंने अपने साथियों अम्लेन्दू चक्रवर्ती, अशोक पाल नंदी, सुमित सरकार के साथ विचार साझा किया। बचेली किरंदुल के मध्य निर्जन बंजर भूमि को हरा भरा करने के लिए चयनित किया।

इस प्रकार अमोद आरण्य की आधार शिला 26 जुलाई 2019 को रखी गई, जो कारगिल के शहीद जवानों को समर्पित है। इसके लिए वन जल संरक्षण समिति बनाई गई। सीआरपीएफ 230 बटालियन, बैलाडीला पत्रकार संघ, रक्तदाता समूह आर्मी विदाउट वैपन, हाई स्कूल बचेली के शिक्षक एवं स्काउट गाइड, दंतेवाड़ा एसपी सहित एनएमडीसी के कुछ अधिकारियों नें भी जनकल्याण की योजना को देखते हुए भरपूर सहयोग किया। समिति के अथक प्रयास से आज सैकड़ों पौधे छह फीट के हो चुके हैं।्र

संदीप दीक्षित की पुत्री नंदनी दीक्षित की अगुवाई में जनजागरण अभियान फ्राइडे फार फ्यूचर की चौतरफा सराहना की जा रही है इस शुक्रवार को जामा मस्जिद प्रांगण में आयोजित सभा में मुस्लिम समुदाय के सदस्यों ने अभियान की जमकर तारीफ करते इस मुहिम को आगे बढ़ाने निरंतर सहयोग का भरोसा दिलाया।

मस्जिद कमेटी के सचिव फकरे आलम ने पर्यावरण के संरक्षण पर प्रकाश डालते बताया कि मुस्लिम धर्मग्रंथों में हरे भरे पेड़ों की कटाई पूरी तरह प्रतिबंधित है अतिआवश्यक होने पर काटे जाने से उसके स्थान पर दोगने पेड़ लगाना अनिवार्य है, प्लास्टिक के उपयोग में भी अंकुश लगाकर पर्यावरण की रक्षा की जा सकती है। इसके लिए सभी व्यक्तियों को हमेशा अपने साथ एक थैला रखने की अपील भी किया।्रडा एसएम हक ने पर्यावरण को धर्म और राजनीति से बढ़कर महत्व देने की बात कही सभी से इस ओर पहल करने की बात कही। एनएमडीसी कर्मचारी मिन्हाज ने विश्व स्तरीय नीति में प्रत्येक देश को 32 प्रतिशत वन विकसित करने की अनिवार्यता के बारे बताया साथ ही इसे मानव जाति का सामूहिक कार्य होना बताया।्र

मुस्लिम समाज के अध्यक्ष बहाउद्दीन ताजी ने आगामी दिनों में समाज द्वारा पौधरोपण करने व पौधों को पेड़ बनने तक निरंतर सेवा देने का संकल्प लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस