जगदलपुर। Jagdalpur News: छत्‍तीसगढ़ के जगदलपुर संभाग में बारिश एक बार फिर मुसीबत बन रही है।रविवार रात को हुई भारी बारिश से किरंदुल रेललाइन में पानी भरने से रेल आवागमन रोक दिया गया है। किरंदुल सेक्शन के काकलूर-कावडग़ांव और कावडगांव-डाकपाल स्टेशनों के बीच रेलवे ट्रैक के ऊपर पानी बह रहा है। सुबह सात बजे से मार्ग बाधित है। किरंदुल- विशाखापटनम पैसेंजर को दंतेवाड़ा में रोका गया है। रेल अधिकारियों की टीम मौके पर अभी नहीं पहुंची है। इधर, कलेक्टर बस्तर ने लगातार हो रही वर्षा को देखते हुए आज स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया है। बीजापुर जिले में भी छुट्टी कर दी गई है।

बाढ़ के कारण चार घंटे बाधित रहा राष्ट्रीय राजमार्ग

बीजापुर में पिछले 24 घंटे से क्षेत्र में रुक-रुककर हो रही वर्षा के कारण एक बार जनजीवन अस्त-व्यस्त होने लगा है। रविवार सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग 63 पर बीजापुर-भोपालपटनम के बीच मोदकपाल नाला में बाढ़ का पानी पुल से ऊपर बहने के कारण चार घंटे से अधिक समय तक आवागमन बंद रहा। शाम चार बजे मार्ग खुलने तक यात्री वाहन सड़क के दोनों ओर खड़े रहे। इससे यात्रियों को परेशान होना पड़ा।

जिला मुख्यालय से पांच किलोमीटर दूर महादेव घाट के समीप स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल सीआरपीएफ कैंप में पानी घुसने से जवानों को परेशानियां उठानी पड़ी। हालांकि देर शाम समाचार लिखे जाने तक यहां स्थिति ठीक हो गई थी। ज्ञात हो कि जुलाई के अंतिम सप्ताह में भी भारी वर्षा के कारण इस कैंप में पानी भर गया था। जिले में शनिवार सुबह से ही वर्षा हो रही है। जिसके कारण नदी-नालों का जलस्तर बढ़ने लगा है। आवापल्ली, चेरपाल, धनोरा, मिरतुर बासागुडा, तोयनार आदि कुछ क्षेत्र बाढ़ के कारण जिला मुख्यालय से कट गए हैं।

वैज्ञानिक भीरेंद्र पालेकर ने बताया कि जिले में शनिवार दोपहर से लेकर रविवार दोपहर तक 88 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी थी। अगले 48 घंटे में क्षेत्र में अच्छी वर्षा होने की संभावना जताई गई है। जिले में इस साल एक जून से अब तक करीब 1700 मिमी वर्षा हो चुकी है जो औसत से करीब 117 फीसद अधिक है। अधिक वर्षा के कारण फसल को नुकसान होने से किसानों की चिंता बढ़ गई है। कुछ क्षेत्रों में फसल खराब होने की बात सामने आई है। ऐसी स्थिति में किसानों को दोबारा खेत की बोनी करनी पड़ सकती है। विदित हो कि जिले में जुलाई माह के अंतिम पखवाड़े में काफी वर्षा होने से जान माल का नुकसान उठाना पड़ा था। जिससे प्रभावित लोग अभी तक उबर नहीं पाए हैं।

आज और कल जारी रहेगी वर्षा, बढ़ने लगा नदी-नालों का जलस्तर

जगदलपुर में पिछले दो दिन से हो रही वर्षा के कारण दक्षिण-मध्य बस्तर में एक बार फिर नदी-नालों का जलस्तर बढ़ने लगा है। अगले दो दिन और वर्षा जारी रहने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। रविवार को भी दिन भर रुक-रुककर वर्षा जारी रही। इसके कारण जनजीवन प्रभावित रहा। मौसम विभाग ने आगामी 48 घंटे के लिए बस्तर संभाग को आरेंज और रेड जोन में रखा है। वर्षा कारण यहां जगदलपुर में निचली बस्तियों के कुछ क्षेत्रों में जल जमाव की स्थिति देखी गई। जिले के दरभा, बास्तानार और लोहंडीगुड़ा विकासखंड में नालों का जलस्तर बढ़ने से अंदरूनी क्षेत्र की सड़कों का संपर्क मुख्यालय से कट गया है।

इंद्रावती नदी में यहां जगदलपुर में पुराना पुल के समीप जलस्तर शाम पांच बजे करीब साढ़े मीटर था। वार्निंग लेवल (सात मीटर) से ढ़ाई मीटर नीचे जलस्तर बना हुआ है। इसी नदी पर दंतेवाड़ा जिले के छिंदनार में पांच बजे 6.52 मीटर बीजापुर जिले के पातागुड़म में 5.70 मीटर पर जलस्तर ेकेंद्रित था। केंद्रीय जल आयोग के इंद्रावती अनुमंडल कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार अगले 24 घंटे में यहां बाढ़ की संभावना नहीं है। बस्तर संभाग के सात जिलों के सुकमा में औसत से करीब एक फीसद कम वर्षा अभी तक चालू मानसून सीजन में दर्ज की गई है। इस एक जिले को छोड़ अन्य छह जिलों में औसत से अधिक वर्षा दर्ज की गई है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close