जगदलपुर। बस्तर संभाग में सरकारी स्कूलों के संचालन की व्यवस्थित व्यवस्था और बेहतर शैक्षणिक वातावरण निर्मित करने को लेकर स्कूलों का लगातार निरीक्षण अभियान चला रहे संयुक्त संचालक शिक्षा हेमंत उपाध्याय (बस्तर संगाग) की कोशिशों के बाद भी स्थिति में अपेक्षित सुधार नहीं हो रहा है। इसे लेकर संयुक्त संचालक ने संभाग के सभी जिला एवं विकासखंड शिक्षा अधिकारियों, प्राचार्यों, प्रधान अध्यापकों को शाला संचालन को सुचारू करने कड़ी चेतावनी दी है।

मंगलवार को दंतेवाड़ा जिले के शासकीय हायरसेकेंडरी स्कूल कटेकल्याण और मेटापाल, पोटाकेबिन कारली के निरीक्षण को पहुंचे हेमंत उपाध्याय ने वहां की स्थिति देखकर नाराजगी जताई और आधे से अधिक अनुपस्थित शिक्षक-शिक्षिकाओं का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया। पोटाकेबिन कारली में जब वह पहुंचे तो वहां अंजलि ठाकुर सहायक शिक्षक, लक्ष्‌मी नारायण सहायक शिक्षक कमला सहायक शिक्षक एवं वंदना नाग सहायक शिक्षक स्टाफ रूम में बैठकर गप्पे हांक रहे थे। जबकि तीन शिक्षक अनुपस्थित होने के कारण विद्यालय में पांच कक्षाएं खाली थी।

सभी शिक्षकों का वेतन काटने का निर्देश

विकास खंड शिक्षा अधिकारी को इन सभी शिक्षकों का वेतन काटने का निर्देश देते हुए उन्होंने कड़ी चेतावनी भी दी। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कटेकल्याण, शासकीय नवीन हाइस्कूल कटेकल्याण, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय कटेकल्याण, कस्तूरबा गांधी माध्यमिक विद्यालय कटेकल्याण एवं शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में मेटापाल, पोटा केबिन कारली और बीजापुर जिले के पूर्व माध्यमिक शाला पूसनार न और शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय इींपतंउहंती तथा शासकीय आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय इींपतंउहंती का निरीक्षण किया।

कोर्स अधूरा जानकार जताई हैरानी

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कटेकल्याण में कक्षा 10 वीं एवं 12वीं के छात्रों से चर्चा में पाठ्यक्रम पूर्ण ना होने की जानकारी हुई जिस से संबंधित शिक्षकों को अतिरिक्त कक्षाएं लेकर पाठ्यक्रम पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया गया। विद्यालय के शिक्षकों के द्वारा अवगत कराया गया कि उनकी सेवा पुस्तिका विकास खंड कार्यालय में रखी गई है जिस पर विकास खंड शिक्षा अधिकारी को स्थल पर ही निर्देशित किया गया की समस्त सेवा पुस्तिका प्राचार्य को हस्तगत करें।

कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में निरीक्षण में छात्राओं के अध्ययन का स्तर संतोषजनक नहीं पाने पर विकास खंड शिक्षा अधिकारी और सहायक विकास शिक्षा खंड शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि वह प्रति सप्ताह विद्यालय का भ्रमण करें और विद्यार्थियों के प्रगति की समीक्षा करें। शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मेटापाल में विद्यार्थियों के द्वारा बताया गया कि उनका प्रायोगिक कार्य आज तक प्रारंभ नहीं हुआ है।

प्राचार्य के द्वारा उक्त विद्यालय के शिक्षकों के शिक्षण कार्य का निरीक्षण भी नहीं किया जा रहा है। कर्तव्य निर्वाह में उदासीनता के कारण प्राचार्य को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय इींपतंउहंती में त्रैमासिक परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाएं विद्यार्थियों को नहीं दिखाया गया कर्तव्य में लापरवाही एवं उदासीनता के कारण इस हेतु श्रीमती सुनीता साहू व्याख्याता एवं श्रीमती सुधा निषाद व्याख्याता के महा दिसंबर के वेतन रोकने के निर्देश विकास खंड शिक्षा अधिकारी को दिए गए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local