जांजगीर-चांपा (नईदुनिया न्यूज)। जिले में कोविड की तीसरी लहर और ओमिक्रान कोविड वैरिएंट के संक्रमण की आशंका को देखते हुए समुचित उपचार की व्यवस्था की गई है। जिले में कोविड संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए आईसीयू, एचडीयू, ऑक्सीजन युक्त, वेंटिलेटर युक्त और सामान्य बेड सहित कुल 1 हजार 771 बेड की व्यवस्था की गई है। विगत 5 दिनों में समुचित उपचार के फलस्वरूप कोरोना संक्रमित 48 मरीजों के स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा 10 जनवरी को रात्रि 8 बजे जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार समुचित उपचार के फलस्वरूप कोरोना संक्रमित 48 मरीजों के स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया है। डेडिकेटेड कोविड अस्पताल ईसीटीसी और जिला अस्पताल के नीयोटेनल वार्ड में 130 बेड और 16 कोविड केयर सेंटर्स में कुल 1360 बेड में उपचार की सुविधा है। इसके अलावा 13 निजी अस्पतालों में -281 बेड की व्यवस्था की गई है। जिला प्रशासन द्वारा डेडिकेटेड कोविड अस्पताल ईसीटीसी और जिला अस्पताल के नीयोटेनल वार्ड में 130 बेड की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। जिसमें आईसीयू के सभी 37 बेड हैं, 1 में मरीज भर्ती है। इसके अलावा 93 बेड आक्सीजनयुक्त है। जिनमें 28 बेड में मरीजों का उपचार किया जा रहा है, 65 बेड रिक्त है। इसके अलावा 16 कोविड केयर सेंटर्स में कुल 1,360 बेड में उपचार की सुविधा है। जिसमें ऑक्सीजन युक्त सभी 621 बेड रिक्त है। सामान्य 739 बेड, सभी रिक्त हैं।

13 निजी अस्पतालों में 281 बेड

जिले के13 निजी अस्पतालों में281 बेड की व्यवस्था की गई है। जिसमें सभी सामान्य 110 बेड, आक्सीजन युक्त 116 बेड, एचडीयू 32 बेड, आसीयू विथ वेंटिलेटर 10 बेड और विदाउट वेंटिलेटर आईसीयू 13 बेड उपलब्ध है। निजी अस्पतालों के सभी बेड रिक्त है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local