जांजगीर-चाम्पा। नईदुनिया प्रतिनिधि। प्रदेश में 82 प्रतिशत आरक्षण के विरोध में चांपा निवासी वेदप्रकाश सिंह ने हाईकोर्ट में रिट पᆬाइल की है। इस पर 26 सितम्बर को इस मामले में स्थगन आदेश के संबंध में बहस होगी।

राज्य सरकार द्वारा अध्यादेश लाकर प्रदेश में 82 पᆬीसदी आरक्षण लागू किया गया है। इसके सुप्रीम कोर्ट के पᆬैसले के विपरित बताते हुए हाईकोर्ट के अधिवक्ता अनिश तिवारी और अतुल केशरवानी के माध्यम से याचिका दायर की गई है और कहा गया है कि 50 पᆬीसदी से अधिक आरक्षण नहीं दिया जा सकता। आज शुक्रवार को मामले की सुनवाई चीपᆬ जस्टिस और जस्टिस पीपी साहू के बैंच में हुई। 26 सितम्बर को 82 पᆬीसदी आरक्षण पर स्थगन आदेश दिए जाने की मांग पर बहस होगी। ज्ञात हो कि सरकार द्वारा विभिन्न वर्गों को आरक्षण देने के लिए अध्यादेश लाया गया है। जिसमें प्रदेश में इसकी सीमा 82 प्रतिशत तक पहुंच गई है। जबकि इंदिरा साहनी के प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट ने आरक्षण की सीमा 50 पᆬीसदी से अधिक नहीं किए जाने का आदेश दिया है। इस याचिका में भी 50 पᆬीसदी से अधिक आरक्षण को चुनौती देते हुए इस पर रोक की मांग की गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket