जांजगीर-चांपा । शहर के विश्वेश्वरैया द्वार के क्षतिग्रस्त होने के बाद पुन: मरम्मत की मांग को लेकर भाजयुमो ने आज नगर पालिका के सामने धरना प्रदर्शन किया। उन्होंने कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। इस दौरान उन्होंने भारी झूमा झटकी के बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला दहन किया। इसके बाद भाजयुमो और भाजपा ने सीएमओ के नाम ज्ञापन देकर विश्वेश्वरैया द्वार को शीघ्र बनाने की मांग की। उन्होंने चेतावनी भी दी यदि 15 दिनों के भीतर द्वार की मरम्मत नहीं हुई तो शहर में उग्र आंदोलन किया जाएगा।

परशुराम मार्ग जाने से पहले एनएच के किनारे विश्वेश्वरैया द्वार का निर्माण नगर पालिका ने कराया था। लेकिन 2 साल पहले एक दुर्घटना में द्वार का एक हिस्सा पूरी तरह टूट चुका है। इसके बाद नगर पालिका ने उसे अपने हाल पर छोड़ दिया है। अभी हाल ही में भाजयुमो ने नगर पालिका को एक ज्ञापन देकर द्वार मरम्मत की मांग की थी। साथ ही उन्होंने मरम्मत नहीं होने की स्थिति में धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी थी। इस बीच नगर पालिका ने द्वार का मरम्मत कराने कोई रुचि ही नहीं ली। इससे नाराज भाजयुमो और भाजपा ने मिलकर आज नगर पालिका कार्यालय के सामन धरना प्रदर्शन किया। धरना के जरिए उन्होंने नगरपालिका के प्रमुखों और मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने कहा केंद्र सरकार की राशि से ही नगर पालिका का संचालन हो रहा है। उन्होंने नगर पालिका पर भ्रष्टाचार का भी आरोप लगा। इसके बाद अंत में पुलिस की मौजूदगी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला दहन कर दिया। हालांकि भाजयुमो कार्यकर्ता और पुलिस के बीच मुख्यमंत्री के पुतले को लेकर काफी झूमा झटकी भी हुई। आखिरकार भाजयुमो पुतला दहन करने में सफल रहे। फिर उन्होंने पुलिस और कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए नगर पालिका पहुंचकर सीएमओ के नाम ज्ञापन दिया। जिसमें उन्होंने विश्वेश्वरैया द्वार कोबनाए जाने की मांग की। इस दौरान भाजपा और भाजयुमो के पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close