जांजगीर-चांपा । ग्राम खोखरा में इन दिनों बेजा कब्जाधारियों की बाढ़ सी आ गई है। आदर्श गोठान के सामने शासकीय जमीन में बेधडक अवैध निर्माण करते हुए चखना सेंटर संचालित किया जा रहा था। साथ ही शासकीय जमीन में मिट्टी भी पाटने का काम जोरों पर था। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने राजस्व विभाग के अध्ािकारियों से की थी। जिस पर शनिवार को राजस्व विभाग की टीम मौके पर पहुंची और अवैध्ा अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाया गया।

ग्राम खोखरा के भड़ेसर मोड़ के पास आदर्श गोठान है जहां समूह की महिलाएं दिनभर काम करती रहती है। वहीं पास में ही धान खरीदी केंद्र और मुक्तिध्ााम भी हैं। यहां नजदीक में ही देसी शराब दुकान संचालित होने के कारण बड़ी संख्या में लोग शासकीय जमीन पर बेजा कब्जा कर चखना दुकान संचालित कर रहे हैं। इसके कारण गोठान में कार्य करने वाली समूह की महिलाओं और राहगीरों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

खोखरा आदर्श गोठान के सामने शासकीय जमीन में अवैध कब्जा का काम जोरों पर था। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने अपर कलेक्टर एसपी वैद्य से की थी। जिस पर उन्होंने राजस्व विभाग के अधिकारियों को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया था। शनिवार को तहसीलदार जांजगीर और पटवारी पुलिस बल सहित मौके पर पहुंची और अवैध रूप से चखना सेंटर व मकान निर्माण में बुलडोजर चलाकर अतिक्रमण हटाया। इस कार्रवाई से बेजा कब्जाधारियों में हड़कंप मच गया है।

सरपंच राध्ो थवाईत ने बताया कि आदर्श गोठान व धान खरीदी केंद्र है साथ ही साथ पामगढ़ व ध्ााराशीव पहुंच मुख्य मार्ग रोड होने के कारण दिनभर वाहन गुजरते रहते हैं। मोड़ के पास अतिक्रमण होने के चलते घटना दुर्घटना आए दिन होती रहती थी। दिनभर शराबियों का जमावड़ा लगी रहती है।

इसके चलते आम राहगीरों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सरपंच ने कहा कि आदर्श गोठान के पास संचालित शराब भट्टी को गांव के अंतिम छोर में अनियंत्रित किया जाएगा। अवैध रूप से मकान निर्माण करने वाले कुछ कब्जा धारियों को खाली करने के लिए एक सप्ताह की मोहलत दी गई है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close