जांजगीर । शिवरीनारायण के वार्ड 14 में अस्पताल के पीछे स्थित पट्टे की जमीन को खरीदकर मुस्लिम समाज के कुछ लोगों के द्वारा अवैध रूप से निर्माण कराया जा रहा था। जब इस बात की जानकारी नगर के लोगों को हुई तो मंगलवार की सुबह बड़ी संख्या में वे इकठ्ठा हो गए और इसका विरोध किया। मौके पर तनाव की स्थिति निर्मित हो गई थी। नगरवासियों के विरोध के बाद काम बंद कराया गया। जबकि बताया जा रहा है कि मुस्लिम समाज के लोग जिस व्यक्ति से उक्त जमीन को खरीदने की बात कह रहे हैं उस जमीन पर पीएम आवास योजना के तहत मकान का निर्माण हो चुका है।

नगरवासियों को वार्ड 14 के लोगों ने बताया कि उनके मोहल्ले में मुस्लिम समाज के द्वारा मदरसा का निर्माण कराया जा रहा है। जिसके बाद मंगलवार की सुबह नगरवासी मौके पर पहुंचे। उन्होंने निर्माण कार्य का विरोध किया तो मुस्लिम समाज के लोगों ने नगरवासियों को बताया कि इस जमीन को उन्होंने वार्ड 14 निवासी श्रवण यादव के पास से साढ़े सात लाख रूपए में खरीदा है। श्रवण यादव को मौके पर बुलाया गया तो उसने बताया कि उसकी माता मंगलीबाई पति गुरमटिया को शासन द्वारा शिवरीनारायण के वार्ड 14 में शासकीय भूमि खसरा नंबर 631 - 1 में 25 बाई 30 वर्गपुीट का पट्टा दिया गया था जिसमें वे काबिज थे। मां मंगलीबाई के निधन के बाद उस जमीन को वार्ड दो निवासी शेख नजरूल, वार्ड 4 निवासी मोहम्मद असलम खान और मुनव्वर खान के पास सात लाख पचास हजार रूपए में बिक्री किया है। जबकि नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष राहुल थवाईत, पार्षद बुध्ोश्वर केशरवानी, विष्णुहरि गुप्ता, एल्डरमैन ईश्वरी केशरवानी ने बताया कि जिस जमीन को श्रवण यादव मुस्लिम समाज के लोगों के पास बेचने की बात कह रहा है उस जमीन के नाम से उसका पीएम आवास स्वीकृत हुआ है जिस पर योजना के तहत मकान का निर्माण भी हो चुका है। ऐसे में वह उस जमीन को मुस्लिम समाज के लोगों के पास कैसे बेच सकता है। इस बात की जानकारी नगरवासियों को हुई तो बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे और शासकीय जमीन में हो रहे अवैध निर्माण पर रोक लगाने की मांग की। मौके पर तनाव की स्थिति निर्मित हो गई थी। नगरवासियों के विरोध के बाद काम बंद किया गया। इसके बाद उन्होंने ने थाना पहुंचकर थाना प्रभारी को आवेदन दिया जिसमें मांग की गई है कि वार्ड 14 में अवैध निर्माण कराने वाले लोगों के खिलापु कार्रवाई की जाए।

बिना अनुमति के हो रहा था निर्माण

जमीन खरीदने वालों के द्वारा जो निर्माण कराया जा रहा था उसके लिए नगर पंचायत शिवरीनारायण के द्वारा किसी प्रकार की अनुमति नहीं दी गई है। बिना अनुमति के ही निर्माण कार्य कराया जा रहा था। मौके पर पहुंचे नगरवासियों ने जब इस बात की जानकारी नगर पंचायत के सीएमओ को दी तो उन्होंने कर्मचारियों को मौके पर भेजकर काम बंद कराने के निर्देश दिए।

अस्पताल निर्माण के लिए आरक्षित है जमीन

नगरवासियों का कहना है कि जिस शासकीय जमीन पर मुस्लिम समाज के लोगों के द्वारा अवैध्ा रूप से निर्माण किया जा रहा था वह अस्पताल के लिए आरक्षित है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शिवरीनारायण में 30 बिस्तर सर्वसुविध्ाायुक्त अस्पताल निर्माण की घोषणा की है। इसके तहत अस्पताल से लगी इस शासकीय जमीन में ही नवीन अस्पताल भवन का निर्माण होना है।

'' वार्ड 14 में अवैध निर्माण की सूचना मिली थी। इस पर नगर पंचायत के कर्मचारियों को मौके पर भेजकर काम बंद कराया गया। नगर पंचायत के द्वारा वहां मदरसा निर्माण के लिए किसी भी व्यक्ति को अनुमति नहीं दी गई है।

संध्या वर्मा

सीएमओ, नगर पंचायत शिवरीनारायण

'' वार्ड क्रमांक 14 के लोगों ने उन्हें सूचना दी थी कि उनके वार्ड में अस्पताल के आरक्षित शासकीय जमीन पर मुस्लिम समाज के कुछ लोगों के द्वारा अवैध रूप से मदरसा का निर्माण कराया जा रहा है। जिस पर मंगलवार को नगरवासियों के साथ मिलकर विरोध किया गया और काम बंद कराया गया।

राहुल थवाईत

पूर्व उपाध्यक्ष, नगर पंचायत शिवरीनारायण

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close