जांजगीर-चांपा (नईदुनिया न्यूज)। बीमा की प्रीमियम राशि समय से अधिक वर्ष तक लेकर ठगी करने वाले अभिकर्ता और भाजयुमो के पूर्व जिलाध्यक्ष हेमंत पटेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मामला डभरा थाना का है। आरोपित हेमंत पटेल ने सात वर्ष तक छल कर 70 हजार रूपए का गबन किया है।

पुलिस के अनुसार डभरा निवासी दामोदर प्रसाद चंद्रा ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि वर्ष 2002 में उसने केनाभांठा निवासी बीमा अभिकर्ता हेमंत कुमार पटेल से जीवन बीमा पालिसी जीवन सुरभि कराया था । जिसका वार्षिक किस्त 10 हजार रूपए प्रति वर्ष अभिकर्ता हेमंत कुमार पटेल उसके घर आकर ले जाता था। दूसरे वर्ष जब हेमंत पटेल पैसा लेने आता था तो उसे पिछले साल का जमा पावती रसीद देता था। एजेंट हेमंत कुमार पटेल ने दामोदर प्रसाद को प्रीमियम राशि का भुगतान 15 वर्ष तक करने के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी और उससे 20 वर्ष तक पैसा लेता रहा। इस दौरान दामोदर को दो बार 25 - 25 हजार रूपए का बोनस मिला था। उसे तीसरा बोनस मिलना था। अभिकर्ता हेमंत कुमार पटेल ने वर्ष 2013 के बाद बीमा कंपनी को प्रीमियम राशि का भुगतान ही नहीं किया। अभिकर्ता हेमंत कुमार पटेल द्वारा बीमा राशि को नहीं पटाने के कारण उसकी पालिसी बंद हो गई। 22 जुलाई को दामोदर प्रसाद को बीमा कंपनी से पत्र प्राप्त हुआ जिसमें 67 हजार की राशि मिलना और आवश्यक दस्तावेज लेकर जांजगीर बीमा कार्यालय में संपर्क करने की बात लिखी थी। जिस पर दामोदर प्रसाद ने जांजगीर कार्यालय में पहुंचकर पूछताछ की जिस पर उसे पालिसी को वर्ष 2013 से बंद होना तथा वर्ष 2015 तक प्रीमियम जमा करने के उपरांत ही बोनस मिलने की जानकारी दी गई। अभिकर्ता हेमंत पटेल द्वारा सात वर्ष में 70 हजार रूपए अधिक लेकर गबन करने की रिपोर्ट दामोदर ने थाने में लिखाई जिस पर पुलिस ने आरोपित के विरूद्घ भादवि की धारा 409, 420 पंजीबद्घ कर विवेचना में लिया गया। पुलिस ने आरोपित केनाभांठा निवासी हेमंत कुमार पटेल को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। ज्ञात हो कि हेमंत कुमार पटेल भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व में जिलाध्यक्ष रह चुके हैं और वर्तमान में भी वे पार्टी में सक्रिय हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close