अकलतरा। सरपंच और सचिव के खिलापᆬ आर्थिक अनियमितता के बाद भी कार्रवाई नहीं किए जाने से आक्रोशित साजापाली के ग्रामीणों ने आज जनपद पंचायत का घेराव कर दिया। ग्रामीण सरपंच, सचिव के खिलापᆬ नारेबाजी करने लगे। इधर जनपद सीईओ महेश चंद्र ने उन्हें समझाइश दी और जिला पंचायत सीईओ को इसकी सूचना दी। जिला पंचायत सीईओ ने पंचायत सचिव को निलंबित करने का आदेश जारी किया। ग्रामीणों को जब इसकी जानकारी दी गई और सरपंच के खिलापᆬ जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया गया तब ग्रामीण शांत हुए और वापस लौटे।

जनपद पंचायत अकलतरा के ग्राम पंचायत साजापाली की सरपंच श्रीमती पᆬोटो बाई मरकाम और सचिव राजेश पाटले के खिलापᆬ आर्थिक अनियमितता का आरोप लगाते हुए उपसरपंच अमृतलाल के साथ ग्रामीणों ने आज सुबह 11ः30 बजे जनपद कार्यालय का घेराव कर दिया। ग्रामीणों ने बताया कि सरपंच, सचिव के खिलापᆬ आर्थिक अनियमितता की कई शिकायतें हुई हैं मगर इसके बाद भी दोनों के खिलापᆬ कोई कार्रवाई नहीं की गई। ग्रामीणों ने बताया कि सचिव राजेश पाटले द्वारा एक ही महिला का अलग-अलग नाम से दो बार मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किया गया है साथ ही सरपंच के साथ मिलकर आर्थिक अनियमितता बरतते हुए शासकीय राशि का दुरूपयोग किया है। इसकी शिकायत पूर्व में जनपद व जिला पंचायत में की जा चुकी है मगर कोई कार्रवाई नहीं होने से ग्रामीणों में आक्रोश दिखा। जिला पंचायत सीईओ टीपी सिन्हा को भी इसकी सूचना दी गई। तब उन्होंने एक महिला का अलग-अलग नाम से दो बार मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किए जाने के चलते पंचायत सचिव राजेश कुमार पाटले को निलंबित करने का आदेश जारी किया। इसके अलावा जनपद सीईओ द्वारा प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन में बताया गया है कि सचिव द्वारा ग्राम सभा की बैठक में रूचि नहीं ली जाती उसके द्वारा कर्तव्यों का पालन भी सही ढंग से नहीं किया जाता। जब जनपद सीईओ ने सचिव के निलंबन और सरपंच के खिलापᆬ कार्रवाई शीघ्र किए जाने की बात कही तब ग्रामीण शांत हुए और अपने घर लौटे। इस दौरान कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए थाना प्रभारी श्रीमती ममता शर्मा सदल बल मौजूद थी।

-------