जांजगीर-चांपा। जिला मुख्यालय से लगे ग्राम खोखरा धाराशिव मोड़ की सरकारी गौचर जमीन पर कई लोगो ने कब्जा कर लिया हैं। यह जमीन आदर्श गौठान का दूसरा हिस्सा हैं। धाराशिव चौक से लेकर मनसा तालाब व ठूठही तालाब के पार को भी लोग कब्जा कर लिए हैं। उसमें भी लोगों ने कब्जा कर मकान बना लिया हैं, वही तालाब का अस्तित्व खत्म कर दिए हैं। कब्जाधारियों ने शासकीय गोठान की जमीन में रहने के लिए मकान व आमदनी के लिए दुकान बना लिया हैं।

खोखरा भड़ेसर मोड़ के पास बेजाकब्जाधारी गोठान की जमीन में 4 से 5 दुकान निर्माण कर लिए हैं जिसे चखना सेंटर संचालन के लिए किराए पर दे दिया गया हैं। इन दुकान मालिकों को नोटिस भी राजस्व विभाग द्वारा मिल चुका हैं परन्तु इसमें भी अब तक की कोई बेदखली की कार्रवाई विभाग द्वारा नही की गई हैं। साथ ही साथ बेजाकब्जाधारी अपने फायदे के लिए शासन की महत्त्वपूर्ण योजनाओं को फेल कर रहे हैं, जिससे राजस्व व जिला प्रशासन को भारी नुकसान हो रहा हैं। कब्जाधारी बेखौफ होकर होटल व दुकान संचालन कर रहे हैं। हाल ही में जांजगीर प्रवास पर आए प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कलेक्टर को कब्जाधारियो पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे।

कब्जाधारियों के हौसले बुलंद , 5 से 6 एकड़ घास भूमि पर कब्जा

राजस्व विभाग ने ग्राम खोखरा धाराशिव मोड़ के पास की घास भूमि के कब्जाधारियों को नोटिस दिया गया था। उन्हीं कब्जाधारियों के द्वारा घास भूमि जमीन में कब्जा कर लिया गया है। राजस्व विभाग के अधिकारियों के मना करने के बावजूद कब्जाधारी निर्माण कार्य करने से नहीं चूक रहे हैं। वही निर्माण कार्य रोकने राजस्व विभाग ध्यान नहीं दे रहा है।

इन कब्जाधारियों को जिला प्रशासन का कोई ख़ौफ भी नहीं है। पूर्व एसडीएम मेनका प्रधान के आदेश पर नायब तहसीलदार व पटवारी ने मौके पर जाकर निर्माण कार्य में रोक लगाई थी। परन्तु रोक लगाने के बावजूद भी कब्जाधारियों के हौसले इस तरह बुलंद हैं की राजस्व अमले को ठेंगा दिखाते हुए निर्माण कार्य कर रहे हैं। इधर विभाग को जानकारी तक नहीं है। जहां राजस्व विभाग के आला अधिकारी मौन दिखाई दे रहे हैं। कब्जाधारी 5 से 6 एकड़ घास भूमि में खंबा तार से घेरा कर फसल उगा रहे है। वहीं अब पीछे तरफ का मकान कब्जा कर निर्माण कर रहे हैं।

इसी तरह इन कब्जाधारियों के द्वारा करीब पांच एकड़ घास भूमि जमीन पर कब्जा जमाए बैठे हैं। जिसकी शिकायत होने के बावजूद आज तक किसी प्रकार की कोई ठोस कार्रवाई नही की गई। वहीं कार्रवाई व अतिक्रमण नही हटाने की वजह से इन कब्जाधारियों को और मौका मिल रहा है ।

वर्जन

तहसीलदार को निर्देशित किया हुआ हैं। नोटिस के बाद कार्रवाई की जाएगी।

कमलेश नंदनी साहू

एसडीएम, जांजगीर

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local