जांजगीर-चांपा (नईदुनिया न्यूज)। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अन्तर्गत एससीएफ निर्माण के संबंध में जोन स्तरीय आनलाईन परामर्श बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में एससीईआरटी के अलावा डाइट पेन्ड्रा, जांजगीर, कोरबा, धरमजयगढ़ के अकादिमक सदस्य शामिल हुए। बैठक की शुरूआत में डाइट जांजगीर की प्राचार्य सविता राजपूत ने कहाकि एससीएफ निर्माण विकासखण्ड स्तर पर बीईओ, एबीईओ , शिक्षाविदों, सेवानिवृत्त शिक्षकों, सीएसी, विभिन्न विद्यालय के शिक्षकों, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं, साक्षरता मिशन के अन्तर्गत नवसाक्षर, असाक्षर एवं स्कूली छात्रों तथा छात्राध्यापकों के साथ ही डाइट जांजगीर के अकादिमक सदस्यों के साथ गहन विचार विमर्श के बाद प्राप्त सुझावों के आधार पर तैयार किया गया है। उपप्राचार्य एलके पाण्डेय ने एससीएफ में सुझाव देने के लिए सभी प्रतिभागियों का आभार व्यक्त किया। एससीएफ के जिला नोडल अधिकारी पीके शर्मा ने सभी पांचों खण्डों क्रमशः स्कूल शिक्षा भाग 1, स्कूल शिक्षा भाग 2, ईसीसीई, शिक्षक शिक्षा तथा व्यस्क शिक्षा पर एनसीईआरअी द्वारा निर्धारित प्रश्नों के संबंध में सुझाव प्रपत्र बनाए जाने की बात कही। उन्होनें बताया कि एससीएफ निर्माण दो माध्यमों क्रमशः चर्चा, परिचर्चा एवं मोबाईल सर्वे द्वारा किया जा रहा है। जांजगीर के अकादमिक सदस्यों में स्कूल शिक्षा भाग 1 की प्रस्तुति ब्याख्याता संजय कुमार शर्मा, केएम जायसवाल एवं प्राचार्य बीपी साहू द्वारा दी गई। स्कूल शिक्षा भाग 2 की प्रस्तुति ब्याख्याता एसके राठौर एवं प्राचार्य एमआर चन्द्रा द्वारा दी गई। इसीसीई पर ब्याख्याता प्रतिमा साहू, उमा यादव एवं प्राचार्य यूके रस्तोगी ने प्रस्तुति दी। शिक्षक शिक्षा की प्रस्तुित ब्याख्याता रमा गोस्वामी, कल्याणी बोस, ब्याख्याता एनके प्रधान द्वारा दी गई। वयस्क शिक्षा पर ब्याख्याता गोपेश साहू, बी जायसवाल एवं सुरेश साहू ने प्रस्तुति दी। डाइट जांजगीर द्वारा स्कूल शिक्षा के साथ ही सभी खण्डों में नए विचार अन्य डाइट के साथ साझा किया गया जिसकी प्राचार्यों ने प्रंशसा की।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local