सक्ती । कलेक्टर नुपूर राशि पन्नाा ने आज कलेक्टर कार्यालय सक्ती के सभाकक्ष में सभी विभागीय अधिकारियों की समय-सीमा बैठक ली। बैठक में उन्होंने राज्य शासन की विभिन्ना योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति छात्रावास, स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रों के निरीक्षण करने केनिर्देश दिए। उन्होंने सभी शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को अपने कार्यालयों में निर्धारित समय पर उपस्थित होने को कहा।

कलेक्टर ने जिले में मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के बेहतर संचालन के लिए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व और जिला स्तरीय अधिकारियों को आंगनबाड़ी केन्द्रों का अकस्मिक जांच करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने आंगनबाडी केन्द्रों का नियमित निरीक्षण कर मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के तहत एनीमिक महिलाओं और बधाों को पौष्टिक आहार उपलब्ध कराने कहा। कलेक्टर ने शिक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए जिले में संचालित स्कूलों, छात्रावासों का लगातार निरीक्षण करने के लिए कहा। छात्रावास में किचन, बधाों की रहने की जगह, साफ-सफाई, शौचालय के स्थिति की जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को नामांतरण, सीमांकन, बंटवारा, डायवर्सन, अन्य राजस्व प्रकरण, तथा अन्य विभिन्ना शिकायतो का निराकरण समय-सीमा में करने के निर्देश दिए। उन्होंने धान खरीदी, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, राजीव गांधी भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, नरवा विकास योजना, राजीव युवा मितान क्लब, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना, आत्मानंद स्कूल, मुख्यमंत्री सुपोषण योजना, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना, मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना, स्वसहायता समूहों का सुदृढ़ीकरण, खाद-बीज की उपलब्धता, सिंचाई सुविधा का विकास, वाटर हार्वेस्टिंग, चिकित्सालयों का सुदृढ़ीकरण, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, जन शिकायत निवारण, कौशल विकास, लोक सेवा गारंटी अधिनियम, फसल बीमा सहित अन्य कार्योंकी समीक्षा किए। बैठक में एसडीएम रैना जमील, संयुक्त कलेक्टर विरेन्द्र लकड़ा, संयुक्त कलेक्टर पंकज डाहिरे, डिप्टी कलेक्टर रजनी भगत सहित सभी विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close