जांजगीर-चांपा। नईदुनिया प्रतिनिधि। लाइसेंस बनाने केलिए फार्म जमा नहीं लेने के कारण लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूम के सामने ही नेशनल हाइवे पर चक्काजाम कर दिया। स्थिति बिगड़ते देख पुलिस ने लोगों को समझाईश दी और फार्म जमा लेने का आश्वासन दिया जिसके बाद युवा वहां से हटे। इस बीच करीब आधे घंटे तक यातायात व्यवस्था प्रभावित रही। इधर दोपहर 1 बजे परिवहन विभाग के अधिकारी - कर्मचारी पहुंचे और आवेदन लेना शुरू किया। इस दौरान भी भारी अव्यवस्था का आलम रहा।

सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान वाहन चालकों का लाइसेंस बनाने के लिए पुलिस द्वारा परिवहन विभाग के सहयोग से शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में गुरूवार को लाइसेंस के लिए आवेदन करने सुबह से ही जिलेभर से लोगों की भीड़ उमड़ गई थी। मगर फार्म जमा लेने के लिए 11 बजे तक परिवहन विभाग के अधिकारी - कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचे थे। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस बल भी मौजूद नहीं थी। एक तरफ जहां सैकड़ों की संख्या में युवा उपस्थित थे और भीड़ बढ़ती ही जा रही थी । वहीं दूसरी तरफ पुलिस विभाग के दो टीआई और दो आरक्षक सहित चार लोग मौजूद थे। जिनके लिए भीड़ को नियंत्रित करना मुश्किल हो रहा था। इधर जब लाइसेंस बनवाने पहुंचे लोगों के सब्र का बांध टूट गया और वे पुलिस कंट्रोल रूम के सामने ही नेशनल हाइवे सड़क पर आ गए और चक्काजाम करने लगे। युवाओं की बड़ी संख्या में सड़क पर आ जाने के कारण करीब आधे घंटे तक यातायात व्यवस्था प्रभावित भी हुई। यातायात निरीक्षक उमेश साहू व अन्य पुलिस कर्मियों ने युवाओं को समझाया और परिवहन विभाग के अधिकारी- कर्मचारियों को बुलाकर फार्म जमा लिए जाने का आश्वासन दिया। इसके बाद युवा शांत हुए और चक्काजाम स्थगित किया। परंतु एक घंटे के बाद भी परिवहन विभाग के अधिकारी - कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचे। जबकि इधर लाइसेंस बनवाने वाले युवाओं की भीड़ ब़ढ़ते ही जा रही थी। बढ़ती भीड़ को देखकर पुलिस कर्मियों के भी पसीने छूट रहे थे। आखिरकार दोपहर 12.30 बजे के करीब जिला परिवहन अधिकारी यशवंत यादव अपने स्टाफ के साथ पहुंचे और फार्म लेना प्रारंभ किया।

सैकड़ों लोगों के लिए केवल दो काऊंटर

लाइसेंस बनवाने के लिए पुलिस कंट्रोल रूम में सुबह 9 बजे से ही लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। दोपहर 12 बजे तक यहां सैकड़ों लोग पहुंच गए थे। समय पर फार्म जमा लेना शुरू नहीं करने के कारण लोगों की भीढ़ बढ़ती ही जा रही थी। दोपहर में परिवहन विभाग के अधिकारी पहुंचे और लोगों से फार्म लेना शुरू किया । सैकड़ों लोगों की भीड़ के बाद भी फार्म जमा लेने के लिए केवल दो काऊंटर बनाया गया था जिसके चलते लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। फार्म जमा करने के लिए लोगों को भारी मशक्कत करनी पड़ी।

दो से तीन घंटे दिव्यांगों ने किया इंतजार

सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान लाइसेंस बनवाने के लिए फार्म जमा लिए जाने की सूचना पर पहुंची दिव्यांग दुर्गा थवाईत ने बताया कि वह सुबह 11 बजे से फार्म जमा करने के लिए पहुंची है लेकिन दो घंटे बाद भी फार्म जमा लेने वाला यहां कोई नहीं है। इसी प्रकार ग्राम कुरियारी से पहुंचे दिव्यांग भागीरथी दिवाकर ने बताया कि वह भी सुबह 10 बजे से यहां पहुंच गया है परंतु अभी तक फार्म जमा नहीं हुआ है। तीन घंटे से फार्म जमा करने के लिए इंतजार कर रहा है। इसी प्रकार खरौद, पामगढ़, बलौदा, नवागढ़, बम्हनीडीह, जैजैपुर, मालखरौदा सहित जिलेभर से लोग फार्म जमा करने पहुंचे थे।

आरटीओ ने शिविर स्थगन की नहीं दी थी सूचना

सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान लाइसेंस बनाने के लिए चार दिन में ही करीब 25 सौ से अधिक आवेदन जमा हो गए । परिवहन विभाग को लाइसेंस के लिए इतनी अधिक मात्रा में आवेदन जमा होने की उम्मीद नहीं थी । अधिक आवेदन जमा होने के कारण परिवहन विभाग ने16 और 17 जनवरी को फार्म जमा लेने की प्रक्रिया को स्थगित कर दी थी मगर इसकी जानकारी के लिए किसी प्रकार की सूचना चस्पा नहीं की गई थी । शिविर स्थगित होने की सूचना नहीं होने के कारण सैकड़ों की संख्या में लोग लाइसेंस बनवाने के लिए पहुंच गए थे।

कचहरी चौक में विधिक सेवा ने बिगाड़ी व्यवस्था

वाहन चालकों को जागरूक करने के लिए विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा कचहरी चौक के पास जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया था। लाइसेंस बनवाने के लिए जिलेभर से आए युवा जानकारी नहीं होने के कारण यहीं लाइन लगा कर खड़े हो गए थे। लोगों की लाइन इतनी लंबी थी कि सड़क तक पहुंच गई थी। इसके चलते चौक से गुजरने वाले भारी वाहनों के चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस दौरान थोडी सी लापरवाही होती तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

आज नहीं लिए जाएंगे फार्म जमा

जिला परिवहन अधिकारी यशवंत यादव ने बताया कि सडक़ सुरक्षा सप्ताह के दौरान लाइसेंस बनवाने के लिए लोगों से फार्म जमा लिए जाने की अंतिम तिथि पहले शुक्रवार 17 जनवरी निर्धारित की गई थी। लेकिन पांच दिन में ही करीब 25 सौ से अधिक आवेदन जमा हो जाने के कारण अब शुक्रवार को शिविर में आवेदन जमा नहीं लिए जाएंगे।

'' सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान उम्मीद से अधिक आवेदन चार दिन में ही जमा हो गए थे। इस वजह से 16 जनवरी को शिविर स्थगित कर दी गई थी। लोगों को सूचना देने के लिए एक आरक्षक को बैठाया गया था। अधिक संख्या में लोगों के आने के कारण फार्म जमा लिए गए । शुक्रवार 17 जनवरी को फार्म जमा नहीं लिए जाएंगे।

यशवंत यादव

जिला परिवहन अधिकारी

'' परिवहन विभाग द्वारा शिविर स्थगित किए जाने की सूचना नहीं दी गई थी। इसलिए लोगों को इसकी जानकारी नहीं दी जा सकी थी। जिसके कारण भीड़ थी। पिᆬर भी परिवहन विभाग के अधिकारी से चर्चा कर उनका पᆬार्म लिया गया। अधिक भीड़ होने के कारण अव्यवस्था थी।

एससीएस परिहार

डीएसपी ट्रैपिᆬक

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket