जांजगीर-चाम्पा। नईदुनिया न्यूज। पत्नी के साथ मारपीट कर प्रताड़ित करने व उसे आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाले आरोपी पति को विशेष न्यायाधीश (पाक्सो) उदयलक्ष्मी परमार ने 5 वर्ष सश्रम कारावास व 1 हजार रूपये अर्थदण्ड से दण्डित किया।

अभियोजन के अनुसार मृतिका रेखा का विवाह उसकी मृत्यु के 14-15 साल पूर्व शिवरीनारायण थाना क्षेत्र के सलखन निवासी लक्ष्मण कुर्रे पिता मोहन कुर्रे के साथ हुआ था। शादी के बाद मृतिका रेखा कुर्रे अपने पति के साथ ससुराल में रहती थी। इसी बीच दोनों के दो संतान हुए। शादी के कुछ सालों बाद लक्ष्मण अपनी दूसरी शादी करने की बात को लेकर रेखा से मारपीट कर उसे घर से निकाल देता था। लगातार उसकी प्रताड़ना से तंग आकर रेखा इसकी जानकारी अपने परिजनों को देती रही। कुछ दिनों बाद लक्ष्मण अपनी पत्नी को वापस घर लेकर आ जाता था, लेकिन कुछ दिन बाद पुनः झगड़ा कर उससे मारपीट करता रहा। 11 अक्टूबर 2016 की रात लक्ष्मण अपनी पत्नी रेखा के साथ मारपीट करने लगा। प्रताड़ना से तंग आकर रेखा ने इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी और उसे वापस मायके ले जाने की बात कहने लगी। वहीं कुछ देर बाद लक्ष्मण भी अपने ससुराल कॉल कर उसे अपने साथ ले जाने की बात कहने लगा, मगर त्यौहार होने के चलते रेखा के परिजन उसे लेने नहीं आ सके। लगातार पति की प्रताड़ना से तंग आकर रेखा ने घर में पᆬांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसके दूसरे दिन रेखा के मायके वालों को मोबाइल से घटना से संबंध में जानकारी मिली। घटना के बाद पुलिस ने प्रार्थी की रिपोर्ट पर आरोपी पति के खिलापᆬ जुर्म दर्ज कर अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया। मामले की सुनवाई के दौरान साक्ष्यों के आधार पर विशेष न्यायालय ने आरोपी लक्ष्मण कुर्रे को अपनी पत्नी मृतिका रेखा को लगातार शारीरिक व मानिसक रूप से प्रताड़ित करने व उसे आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने का दोषी पाया। न्यायालय ने आरोपी लक्ष्मण कुर्रे (35) पिता मोहन कुर्रे को भादवि की धारा 306 के लिए 5 वर्ष सश्रम कारावास व 1 हजार रूपये अर्थदण्ड से दण्डित किया। अर्थदण्ड की राशि अदा नहीं किए जाने पर 2 माह अतिरिक्त सादा कारावास पृथक से भुगताए जाने का आदेश दिया है। उक्त मामले में अभियोजन की ओर से अपर लोक अभियोजक (एपᆬटीसी) बालकृष्ण मिश्रा ने पैरवी की।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket